Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jun 2023 · 1 min read

कसौटी

थोड़ी बेशर्मी, बेइमानी, हरामखोरी, सीखनी पड़ेगी मुझे।
तुम्हारे साथ रिश्ते की कसौटी है ये, देखनी पड़ेगी मुझे।।

जिन नियम शर्तो पर जी रहा हूं मैं, बदलना पड़ेगा मुझे।
बहुत खो दिया सच की राह चलके, ठहरना पड़ेगा मुझे।।

सच के आईने में जो अश्क था मेरा, वो अश्क बदलना होगा।
अश्क मेरा तेरे अश्क जैसा हो जाए, आइना तेरा ही लेना होगा।।

जय सियाराम

Language: Hindi
2 Likes · 333 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मन मस्तिष्क और तन को कुछ समय आराम देने के लिए उचित समय आ गया
मन मस्तिष्क और तन को कुछ समय आराम देने के लिए उचित समय आ गया
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
मन तेरा भी
मन तेरा भी
Dr fauzia Naseem shad
आशा की एक किरण
आशा की एक किरण
Mamta Rani
"फ़िर से आज तुम्हारी याद आई"
Lohit Tamta
जिंदगी, जिंदगी है इसे सवाल ना बना
जिंदगी, जिंदगी है इसे सवाल ना बना
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
मातु शारदे करो कल्याण....
मातु शारदे करो कल्याण....
डॉ.सीमा अग्रवाल
चित्र आधारित चौपाई रचना
चित्र आधारित चौपाई रचना
गुमनाम 'बाबा'
आवाजें
आवाजें
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
काग़ज़ ना कोई क़लम,
काग़ज़ ना कोई क़लम,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हसीब सोज़... बस याद बाक़ी है
हसीब सोज़... बस याद बाक़ी है
अरशद रसूल बदायूंनी
****मतदान करो****
****मतदान करो****
Kavita Chouhan
प्रीत
प्रीत
Mahesh Tiwari 'Ayan'
वाणी
वाणी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मैं तो महज एक माँ हूँ
मैं तो महज एक माँ हूँ
VINOD CHAUHAN
मुझे लगता था —
मुझे लगता था —
SURYA PRAKASH SHARMA
23/84.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/84.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सिर्फ अपना उत्थान
सिर्फ अपना उत्थान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
ना कुछ जवाब देती हो,
ना कुछ जवाब देती हो,
Dr. Man Mohan Krishna
सोच
सोच
Shyam Sundar Subramanian
एक लोग पूछ रहे थे दो हज़ार के अलावा पाँच सौ पर तो कुछ नहीं न
एक लोग पूछ रहे थे दो हज़ार के अलावा पाँच सौ पर तो कुछ नहीं न
Anand Kumar
Ye chad adhura lagta hai,
Ye chad adhura lagta hai,
Sakshi Tripathi
*Perils of Poverty and a Girl child*
*Perils of Poverty and a Girl child*
Poonam Matia
वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई
वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मोदी जी ; देश के प्रति समर्पित
मोदी जी ; देश के प्रति समर्पित
कवि अनिल कुमार पँचोली
*मां*
*मां*
Dr. Priya Gupta
जिंदगी में संतुलन खुद की कमियों को समझने से बना रहता है,
जिंदगी में संतुलन खुद की कमियों को समझने से बना रहता है,
Seema gupta,Alwar
मौज के दोराहे छोड़ गए,
मौज के दोराहे छोड़ गए,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
Raazzz Kumar (Reyansh)
वो नाकामी के हजार बहाने गिनाते रहे
वो नाकामी के हजार बहाने गिनाते रहे
नूरफातिमा खातून नूरी
#शेर
#शेर
*प्रणय प्रभात*
Loading...