Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Jun 2016 · 1 min read

कविता

शुभ प्रेरक तत्त्व समाहित हों जिसमे कुछ अर्थ महान दिखेI
अति सीमित शब्द असीमित भाव लिए गणबद्ध विधान दिखेI
गुणगौरव हो जिसमे प्रभु का शुचि मानवता हित ज्ञान दिखेI
कविता वह है जिसमे कवि के मन प्राण दिखें पहचान दिखेII
रचनाकार
डॉ आशुतोष वाजपेयी
ज्योतिषाचार्य
लखनऊ

Language: Hindi
406 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*धन्य करें इस जीवन को हम, चलें अयोध्या धाम (गीत)*
*धन्य करें इस जीवन को हम, चलें अयोध्या धाम (गीत)*
Ravi Prakash
3256.*पूर्णिका*
3256.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
व्यावहारिक सत्य
व्यावहारिक सत्य
Shyam Sundar Subramanian
भारत के वीर जवान
भारत के वीर जवान
Mukesh Kumar Sonkar
विवेकवान मशीन
विवेकवान मशीन
Sandeep Pande
उनकी तोहमत हैं, मैं उनका ऐतबार नहीं हूं।
उनकी तोहमत हैं, मैं उनका ऐतबार नहीं हूं।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
#दोहा
#दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
"मेरी बेटी है नंदिनी"
Ekta chitrangini
আগামীকালের স্ত্রী
আগামীকালের স্ত্রী
Otteri Selvakumar
तक्षशिला विश्वविद्यालय के एल्युमिनाई
तक्षशिला विश्वविद्यालय के एल्युमिनाई
Shivkumar Bilagrami
'लक्ष्य-1'
'लक्ष्य-1'
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
युग बीत गया
युग बीत गया
Dr.Pratibha Prakash
अंतिम पड़ाव
अंतिम पड़ाव
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
दिवाली मुबारक नई ग़ज़ल विनीत सिंह शायर
दिवाली मुबारक नई ग़ज़ल विनीत सिंह शायर
Vinit kumar
ये कमाल हिन्दोस्ताँ का है
ये कमाल हिन्दोस्ताँ का है
अरशद रसूल बदायूंनी
तोड़ी कच्ची आमियाँ, चटनी लई बनाय
तोड़ी कच्ची आमियाँ, चटनी लई बनाय
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
(((((((((((((तुम्हारी गजल))))))
(((((((((((((तुम्हारी गजल))))))
Rituraj shivem verma
జయ శ్రీ రామ...
జయ శ్రీ రామ...
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
नौजवानों से अपील
नौजवानों से अपील
Shekhar Chandra Mitra
शुभ होली
शुभ होली
Dr Archana Gupta
सुहागन का शव
सुहागन का शव
Anil "Aadarsh"
गीत
गीत
प्रीतम श्रावस्तवी
20. सादा
20. सादा
Rajeev Dutta
कलम
कलम
शायर देव मेहरानियां
"रंग भरी शाम"
Dr. Kishan tandon kranti
मुहब्बत
मुहब्बत
बादल & बारिश
अगर.... किसीसे ..... असीम प्रेम करो तो इतना कर लेना की तुम्ह
अगर.... किसीसे ..... असीम प्रेम करो तो इतना कर लेना की तुम्ह
पूर्वार्थ
अनजान रिश्ते...
अनजान रिश्ते...
Harminder Kaur
छवि अति सुंदर
छवि अति सुंदर
Buddha Prakash
तेरी महफ़िल में सभी लोग थे दिलबर की तरह
तेरी महफ़िल में सभी लोग थे दिलबर की तरह
Sarfaraz Ahmed Aasee
Loading...