Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Sep 2022 · 1 min read

औरतों का इंकलाब

भारत से लेकर ईरान तक!
म्यांमार से लेकर अफ़ग़ानिस्तान तक!!
औरतें एक-सी परेशान हैं!
बांग्लादेश से लेकर पाकिस्तान तक!!
#सामंतवाद #REVOLUTION #हक़
#Equality #IranProtests #girls
#बहुजन #मनुवाद #औरत #Hijab
#justice #इंसाफ़ #WomenRights #पितृसत्ता #feudalism #Uno #usa

Language: Hindi
168 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वो  खफा है ना जाने किसी बात पर
वो खफा है ना जाने किसी बात पर
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
कहा था जिसे अपना दुश्मन सभी ने
कहा था जिसे अपना दुश्मन सभी ने
Johnny Ahmed 'क़ैस'
The engulfing darkness and the silence stretched too long,
The engulfing darkness and the silence stretched too long,
Manisha Manjari
कहने को बाकी क्या रह गया
कहने को बाकी क्या रह गया
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
शून्य से अनन्त
शून्य से अनन्त
The_dk_poetry
बाल कविता: 2 चूहे मोटे मोटे (2 का पहाड़ा, शिक्षण गतिविधि)
बाल कविता: 2 चूहे मोटे मोटे (2 का पहाड़ा, शिक्षण गतिविधि)
Rajesh Kumar Arjun
*** आशा ही वो जहाज है....!!! ***
*** आशा ही वो जहाज है....!!! ***
VEDANTA PATEL
रंजीत शुक्ल
रंजीत शुक्ल
Ranjeet Kumar Shukla
3113.*पूर्णिका*
3113.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
रेत का ज़र्रा मैं, यूं ही पड़ा था साहिल पर,
रेत का ज़र्रा मैं, यूं ही पड़ा था साहिल पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
स्नेह का बंधन
स्नेह का बंधन
Dr.Priya Soni Khare
हिसाब हुआ जब संपत्ति का मैंने अपने हिस्से में किताबें मांग ल
हिसाब हुआ जब संपत्ति का मैंने अपने हिस्से में किताबें मांग ल
Lokesh Sharma
अपने-अपने चक्कर में,
अपने-अपने चक्कर में,
Dr. Man Mohan Krishna
विधवा
विधवा
Acharya Rama Nand Mandal
धोखा देकर बेवफ़ा,
धोखा देकर बेवफ़ा,
sushil sarna
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
जिंदगी एडजस्टमेंट से ही चलती है / Vishnu Nagar
Dr MusafiR BaithA
"तब"
Dr. Kishan tandon kranti
Exercise is not expensive, Medical bills are.
Exercise is not expensive, Medical bills are.
पूर्वार्थ
❤️ DR ARUN KUMAR SHASTRI ❤️
❤️ DR ARUN KUMAR SHASTRI ❤️
DR ARUN KUMAR SHASTRI
क्या यह कलयुग का आगाज है?
क्या यह कलयुग का आगाज है?
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
Sanjay ' शून्य'
सुविचार
सुविचार
Sanjeev Kumar mishra
कल जो रहते थे सड़क पर
कल जो रहते थे सड़क पर
Meera Thakur
■ दिल
■ दिल "पिपरमेंट" सा कोल्ड है भाई साहब! अभी तक...।😊
*प्रणय प्रभात*
मां भारती से कल्याण
मां भारती से कल्याण
Sandeep Pande
वीर सुरेन्द्र साय
वीर सुरेन्द्र साय
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मुक्तक
मुक्तक
पंकज कुमार कर्ण
*करते पशुओं पर दया, अग्रसेन भगवान (कुंडलिया)*
*करते पशुओं पर दया, अग्रसेन भगवान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मेरे चेहरे पर मुफलिसी का इस्तेहार लगा है,
मेरे चेहरे पर मुफलिसी का इस्तेहार लगा है,
Lokesh Singh
मनुष्य प्रवृत्ति
मनुष्य प्रवृत्ति
विजय कुमार अग्रवाल
Loading...