Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2023 · 1 min read

एक उलझन में हूं मैं

एक उलझन में हूं मैं
बावस्ता हूँ एक कशमकश में
तुम खो गई हो कहीं
या मैं ही गुमशुदा हो गया हूँ
ख़ुद में कहीं…!!!!

हिमांशु Kulshreshtha

351 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मन
मन
Happy sunshine Soni
खूबसूरती
खूबसूरती
Ritu Asooja
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
महाश्रृंङ्गार_छंद_विधान _सउदाहरण
महाश्रृंङ्गार_छंद_विधान _सउदाहरण
Subhash Singhai
आँख मिचौली जिंदगी,
आँख मिचौली जिंदगी,
sushil sarna
अरे वो बाप तुम्हें,
अरे वो बाप तुम्हें,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कई महीने साल गुजर जाते आँखों मे नींद नही होती,
कई महीने साल गुजर जाते आँखों मे नींद नही होती,
Shubham Anand Manmeet
2946.*पूर्णिका*
2946.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
अपनी गजब कहानी....
अपनी गजब कहानी....
डॉ.सीमा अग्रवाल
मारुति मं बालम जी मनैं
मारुति मं बालम जी मनैं
gurudeenverma198
उड़ान ~ एक सरप्राइज
उड़ान ~ एक सरप्राइज
Kanchan Khanna
सतरंगी आभा दिखे, धरती से आकाश
सतरंगी आभा दिखे, धरती से आकाश
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
भिनसार ले जल्दी उठके, रंधनी कती जाथे झटके।
भिनसार ले जल्दी उठके, रंधनी कती जाथे झटके।
PK Pappu Patel
किस दौड़ का हिस्सा बनाना चाहते हो।
किस दौड़ का हिस्सा बनाना चाहते हो।
Sanjay ' शून्य'
कोई क्या करे
कोई क्या करे
Davina Amar Thakral
🙅क्षणिका🙅
🙅क्षणिका🙅
*Author प्रणय प्रभात*
जीवन के गीत
जीवन के गीत
Harish Chandra Pande
जिंदगी की सड़क पर हम सभी अकेले हैं।
जिंदगी की सड़क पर हम सभी अकेले हैं।
Neeraj Agarwal
नमन तुमको है वीणापाणि
नमन तुमको है वीणापाणि
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
कौन ?
कौन ?
साहिल
वो शिकायत भी मुझसे करता है
वो शिकायत भी मुझसे करता है
Shweta Soni
हिन्दू जागरण गीत
हिन्दू जागरण गीत
मनोज कर्ण
*अध्याय 4*
*अध्याय 4*
Ravi Prakash
कौन किसके बिन अधूरा है
कौन किसके बिन अधूरा है
Ram Krishan Rastogi
चन्द्रयान अभियान
चन्द्रयान अभियान
surenderpal vaidya
-अपनी कैसे चलातें
-अपनी कैसे चलातें
Seema gupta,Alwar
टूटी हुई उम्मीद की सदाकत बोल देती है.....
टूटी हुई उम्मीद की सदाकत बोल देती है.....
कवि दीपक बवेजा
1
1
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
खुशबू चमन की।
खुशबू चमन की।
Taj Mohammad
Loading...