Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#9 Trending Author
May 30, 2022 · 1 min read

आ तुझको तुझ से चुरा लू

आ तुझ को तुझ से चुरा लू,
प्यार से तुझे दिल में बसा लू।
ख्वासिश है यह आखरी मेरी,
तुझ को मै अपना बना लू।।

कजरे की जगह तुझे लगा लू,
बंद नयनों में मै तुझे बसा लू।
तुम मेरे श्याम हो मै राधा तेरी,
यह मोहनी सूरत तेरी बसा लू।।

गजरे की जगह तुझे लगा लू,
बालो में तुझ को मै सजा लू।
खश्बू आती रहेगी तेरी मुझे,
आ तुझ को मै पास सुला लू।।

सिंदूर हो तुम सुहाग भी मेरे,
प्रिय प्रियतम जीवन के मेरे।
तुम बिन जीवन कैसे बिताऊं,
सात फेरे लेलो साथ तुम मेरे।

होठों की लाली हों तुम मेरे,
लाली आती नही है बिन तेरे।
स्पर्श करू कैसे तेरे लबों का,
समझ आती नही है अब मेरे।।

मंगल सूत्र तुम्हे मै बना लू,
गले में तुमको मैं लटका लू।
दिल के पास रहोगे तुम मेरे,
कैसे तुमको मैं अब भुला लू।।

मेरे जीवन के भरतार हो मेरे,
मै नाव हूं तुम पतवार हो मेरे।
भवसागर से पार उतारो मुझे,
मेरे जीवन के खिवैया हो मेरे।।

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

2 Likes · 5 Comments · 264 Views
You may also like:
✍️सूफ़ियाना जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
समझना आपको है
Dr fauzia Naseem shad
बहुत कुछ सिखा
Swami Ganganiya
हमारे पास करने को दो ही काम है।
Taj Mohammad
माँ का प्यार
Anamika Singh
बिक रहा सब कुछ
Dr. Rajeev Jain
गजल सी रचना
Kanchan Khanna
अहंकार
AMRESH KUMAR VERMA
बुलबुला
मनोज शर्मा
पत्नियों की फरमाइशें (हास्य व्यंग)
Ram Krishan Rastogi
एक मुद्दत से।
Taj Mohammad
योग है अनमोल साधना
Anamika Singh
देखो
Dr.Priya Soni Khare
अगनित उरग..
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
✍️अहज़ान✍️
'अशांत' शेखर
ओ भोले भण्डारी
Anamika Singh
सुरत और सिरत
Anamika Singh
जब सावन का मौसम आता
लक्ष्मी सिंह
विश्व जनसंख्या दिवस
Ram Krishan Rastogi
मेरी नींदों की
Dr fauzia Naseem shad
पागल हूं जो दिन रात तुझे सोचता हूं।
Harshvardhan "आवारा"
" सूरजमल "
Dr Meenu Poonia
अपने दिल से
Dr fauzia Naseem shad
मानव_शरीर_में_सप्तचक्रों_का_प्रभाव
Vikas Sharma'Shivaaya'
तिरंगा
Pakhi Jain
नफरत
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
कल खो जाएंगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
नफ़्स
निकेश कुमार ठाकुर
जूते जूती की महिमा (हास्य व्यंग)
Ram Krishan Rastogi
جانے کہاں وہ دن گئے فصل بہار کے
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
Loading...