Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Feb 2024 · 1 min read

आपकी बुद्धिमत्ता को कभी भी एक बार में नहीं आंका जा सकता क्यो

आपकी बुद्धिमत्ता को कभी भी एक बार में नहीं आंका जा सकता क्योंकि तीर तो कभी कभी आंख बंद करके भी सही ठिकाने पर लग जाती है पर वास्तव में सफल और बुद्धिमान तो वहीं है जो 100 में 93 बार सफल हो।
RJ Anand Prajapati

39 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
दर्शक की दृष्टि जिस पर गड़ जाती है या हम यूं कहे कि भारी ताद
दर्शक की दृष्टि जिस पर गड़ जाती है या हम यूं कहे कि भारी ताद
Rj Anand Prajapati
जिन्दगी
जिन्दगी
Bodhisatva kastooriya
दिल पे पत्थर ना रखो
दिल पे पत्थर ना रखो
shabina. Naaz
मैं अकेली हूँ...
मैं अकेली हूँ...
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
ध्यान सारा लगा था सफर की तरफ़
ध्यान सारा लगा था सफर की तरफ़
अरशद रसूल बदायूंनी
Trying to look good.....
Trying to look good.....
सिद्धार्थ गोरखपुरी
3347.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3347.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
क्योंकि मैं किसान हूँ।
क्योंकि मैं किसान हूँ।
Vishnu Prasad 'panchotiya'
रामजी कर देना उपकार
रामजी कर देना उपकार
Seema gupta,Alwar
कठिन परिश्रम साध्य है, यही हर्ष आधार।
कठिन परिश्रम साध्य है, यही हर्ष आधार।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
उलझी रही नजरें नजरों से रात भर,
उलझी रही नजरें नजरों से रात भर,
sushil sarna
नवयौवना
नवयौवना
लक्ष्मी सिंह
हर हक़ीक़त को
हर हक़ीक़त को
Dr fauzia Naseem shad
युवराज को जबरन
युवराज को जबरन "लंगोट" धारण कराने की कोशिश का अंतिम दिन आज।
*Author प्रणय प्रभात*
*मकर संक्रांति पर्व
*मकर संक्रांति पर्व"*
Shashi kala vyas
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
न दिल किसी का दुखाना चाहिए
नूरफातिमा खातून नूरी
आईने से बस ये ही बात करता हूँ,
आईने से बस ये ही बात करता हूँ,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
कुछ अपनी कुछ उनकी बातें।
कुछ अपनी कुछ उनकी बातें।
सत्य कुमार प्रेमी
"मित्रता"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
।। सुविचार ।।
।। सुविचार ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-143के दोहे
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-143के दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जन जन में खींचतान
जन जन में खींचतान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
*रामपुर रियासत में बिजली के कनेक्शन*
*रामपुर रियासत में बिजली के कनेक्शन*
Ravi Prakash
थोड़ा सच बोलके देखो,हाँ, ज़रा सच बोलके देखो,
थोड़ा सच बोलके देखो,हाँ, ज़रा सच बोलके देखो,
पूर्वार्थ
सर्द ऋतु का हो रहा है आगमन।
सर्द ऋतु का हो रहा है आगमन।
surenderpal vaidya
मी ठू ( मैं हूँ ना )
मी ठू ( मैं हूँ ना )
Mahender Singh
बस मुझे महसूस करे
बस मुझे महसूस करे
Pratibha Pandey
उसका प्यार
उसका प्यार
Dr MusafiR BaithA
देखें हम भी उस सूरत को
देखें हम भी उस सूरत को
gurudeenverma198
Loading...