Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Mar 2017 · 1 min read

*** आओ मनाएँ भारतीय नव वर्ष ****

*चैत्र, वैशाख, जेष्ठ,आषाढ़
है सुना किसी ने इनका नाम
नहीं सुना तो आज बताती
सार्थकता इनकी भारतवासी को आज

*यह नाम नहीं साधारण
सुन लो सभी जन यह आज
हिंदी महीनों के यह है नाम
चैत्र, वैशाख, ज्येष्ठ, आषाढ़

*पता सभी को यही है बस
शुरू होता नव वर्ष
एक जनवरी से बस
एक जनवरी को नया साल
सभी मनाते
चैत्र को हम सब भूल हैं जाते

*चैत्र से शुरू होता है
हिंदु नव वर्ष
फागुन बारहवाँ माह है कहलाता
होली के जाते ही लोगों
हिंदु नव वर्ष आगमन कर जाता

*जैसे दिवाली, दशहरा, होली,
राखी, तीज, गणगौर मनाते हो
फिर क्यों हिंदु नया साल भूलकर
नया साल सिर्फ अंग्रेजों वाला ही
क्यों मनाते हो ?

*याद सभी यह रखना आज से
केसरिया भगवा झंडा
ऊपर लगाना घर के
खीर और पूड़ी बनाकर
हिंदु नव वर्ष सभी भारतवासी तुम
इसी साल से मनाना मिलकर के

*विदेशी नव वर्ष यह कैसा हर्ष
आओ मनाएँ भारतीय नववर्ष
आओ मनाएँ भारतीय नववर्ष |||||

Language: Hindi
371 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अपनी कीमत उतनी रखिए जितना अदा की जा सके
अपनी कीमत उतनी रखिए जितना अदा की जा सके
Ranjeet kumar patre
***
*** " मन मेरा क्यों उदास है....? " ***
VEDANTA PATEL
तुम बिन जीना सीख लिया
तुम बिन जीना सीख लिया
Arti Bhadauria
सबका नपा-तुला है जीवन, सिर्फ नौकरी प्यारी( मुक्तक )
सबका नपा-तुला है जीवन, सिर्फ नौकरी प्यारी( मुक्तक )
Ravi Prakash
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
Dr. Man Mohan Krishna
चाय
चाय
Dr. Seema Varma
दिल ऐसी चीज़ है जो किसी पर भी ग़ालिब हो सकती है..
दिल ऐसी चीज़ है जो किसी पर भी ग़ालिब हो सकती है..
पूर्वार्थ
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
Dr Archana Gupta
ताटंक कुकुभ लावणी छंद और विधाएँ
ताटंक कुकुभ लावणी छंद और विधाएँ
Subhash Singhai
नमन सभी शिक्षकों को, शिक्षक दिवस की बधाई 🎉
नमन सभी शिक्षकों को, शिक्षक दिवस की बधाई 🎉
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*
*"रोटी"*
Shashi kala vyas
जीवन का सच
जीवन का सच
Neeraj Agarwal
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
इश्क
इश्क
SUNIL kumar
#मुक्तक-
#मुक्तक-
*प्रणय प्रभात*
गीतिका
गीतिका
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
लेखनी का सफर
लेखनी का सफर
Sunil Maheshwari
एक ठंडी हवा का झोंका है बेटी: राकेश देवडे़ बिरसावादी
एक ठंडी हवा का झोंका है बेटी: राकेश देवडे़ बिरसावादी
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
दिल में उम्मीदों का चराग़ लिए
दिल में उम्मीदों का चराग़ लिए
_सुलेखा.
सुनें   सभी   सनातनी
सुनें सभी सनातनी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुझे याद🤦 आती है
मुझे याद🤦 आती है
डॉ० रोहित कौशिक
मैं उसकी देखभाल एक जुनूं से करती हूँ..
मैं उसकी देखभाल एक जुनूं से करती हूँ..
Shweta Soni
चिड़िया बैठी सोच में, तिनका-तिनका जोड़।
चिड़िया बैठी सोच में, तिनका-तिनका जोड़।
डॉ.सीमा अग्रवाल
अर्ज है पत्नियों से एक निवेदन करूंगा
अर्ज है पत्नियों से एक निवेदन करूंगा
शेखर सिंह
माना  कि  शौक  होंगे  तेरे  महँगे-महँगे,
माना कि शौक होंगे तेरे महँगे-महँगे,
Kailash singh
जुड़ी हुई छतों का जमाना था,
जुड़ी हुई छतों का जमाना था,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
होली पर बस एक गिला।
होली पर बस एक गिला।
सत्य कुमार प्रेमी
बिन चाहे गले का हार क्यों बनना
बिन चाहे गले का हार क्यों बनना
Keshav kishor Kumar
ठिठुरन
ठिठुरन
Mahender Singh
ज़िंदगी की जद्दोजहद
ज़िंदगी की जद्दोजहद
Davina Amar Thakral
Loading...