Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jun 2023 · 1 min read

योगी?

भगवा वस्त्र है,
भाला शस्त्र है,
कान में कुंडल,
हाथ में कमंडल,
एक हाथ भाला,
दूजे हाथ माला,
शिव का भक्त है,
सनातनी रक्त है,
देवभूमि से जो आया,
गोरख पीठ का महंत है।
अनाथों का नाथ है,
वो संत आदित्य नाथ है।

मां भारती का लाल है,
नेता भी कमाल है,
गोरखपुर में अनजान सा,
एक नवजवान सा,
गुंडों के बीच में,
जातियों के कीच में,
देखो कमल खिल गया,
बाबा सबको मिल गया,
तन है हिंदू मन है हिंदू,
वैसे तो है कृपासिंधु,
हिंदू हृदय सम्राट है,
न राज है न पाट है,
देश द्रोहियों का काल है,
बंदा ये कमाल है,
पांच बार से सांसद,
गोरखपुर का संत है।……..to be continued

Language: Hindi
1 Like · 340 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हर एक शख्स से ना गिला किया जाए
हर एक शख्स से ना गिला किया जाए
कवि दीपक बवेजा
चल फिर इक बार मिलें हम तुम पहली बार की तरह।
चल फिर इक बार मिलें हम तुम पहली बार की तरह।
Neelam Sharma
तलबगार दोस्ती का (कविता)
तलबगार दोस्ती का (कविता)
Monika Yadav (Rachina)
किसी के साथ की गयी नेकी कभी रायगां नहीं जाती
किसी के साथ की गयी नेकी कभी रायगां नहीं जाती
shabina. Naaz
आप जब खुद को
आप जब खुद को
Dr fauzia Naseem shad
*हैं जिनके पास अपने*,
*हैं जिनके पास अपने*,
Rituraj shivem verma
भ्रूणहत्या
भ्रूणहत्या
Neeraj Agarwal
बेटीयां
बेटीयां
Aman Kumar Holy
"अभी" उम्र नहीं है
Rakesh Rastogi
आप ही बदल गए
आप ही बदल गए
Pratibha Pandey
"गुल्लक"
Dr. Kishan tandon kranti
" है वही सुरमा इस जग में ।
Shubham Pandey (S P)
बेनाम रिश्ते .....
बेनाम रिश्ते .....
sushil sarna
रामराज्य
रामराज्य
कार्तिक नितिन शर्मा
जब तुम हारने लग जाना,तो ध्यान करना कि,
जब तुम हारने लग जाना,तो ध्यान करना कि,
पूर्वार्थ
गिरगिट रंग बदलने लगे हैं
गिरगिट रंग बदलने लगे हैं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हसरतें पाल लो, चाहे जितनी, कोई बंदिश थोड़े है,
हसरतें पाल लो, चाहे जितनी, कोई बंदिश थोड़े है,
Mahender Singh
ड्यूटी
ड्यूटी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Manisha Manjari
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
महिमा है सतनाम की
महिमा है सतनाम की
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
#शेर
#शेर
*प्रणय प्रभात*
मिलने वाले कभी मिलेंगें
मिलने वाले कभी मिलेंगें
Shweta Soni
3180.*पूर्णिका*
3180.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हो गया जो दीदार तेरा, अब क्या चाहे यह दिल मेरा...!!!
हो गया जो दीदार तेरा, अब क्या चाहे यह दिल मेरा...!!!
AVINASH (Avi...) MEHRA
सपनो का शहर इलाहाबाद /लवकुश यादव
सपनो का शहर इलाहाबाद /लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
आऊँगा कैसे मैं द्वार तुम्हारे
आऊँगा कैसे मैं द्वार तुम्हारे
gurudeenverma198
ज़िन्दगी
ज़िन्दगी
Santosh Shrivastava
अगर तलाश करूं कोई मिल जायेगा,
अगर तलाश करूं कोई मिल जायेगा,
शेखर सिंह
शिक्षित लोग
शिक्षित लोग
Raju Gajbhiye
Loading...