Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Jun 2023 · 1 min read

अब तक मुकम्मल नहीं हो सका आसमां,

अब तक मुकम्मल नहीं हो सका आसमां,
बारिशों में बेहिसाब चूता है।
a m prahari

368 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Anil Mishra Prahari
View all
You may also like:
हथेली पर जो
हथेली पर जो
लक्ष्मी सिंह
■ आज तक की गणना के अनुसार।
■ आज तक की गणना के अनुसार।
*प्रणय प्रभात*
ये जो लोग दावे करते हैं न
ये जो लोग दावे करते हैं न
ruby kumari
3009.*पूर्णिका*
3009.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मन बैठ मेरे पास पल भर,शांति से विश्राम कर
मन बैठ मेरे पास पल भर,शांति से विश्राम कर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"फिर"
Dr. Kishan tandon kranti
शब की ख़ामोशी ने बयां कर दिया है बहुत,
शब की ख़ामोशी ने बयां कर दिया है बहुत,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
सब कुछ लुटा दिया है तेरे एतबार में।
सब कुछ लुटा दिया है तेरे एतबार में।
Phool gufran
बड़े अगर कोई बात कहें तो उसे
बड़े अगर कोई बात कहें तो उसे
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
*वीर सावरकर 【गीत 】*
*वीर सावरकर 【गीत 】*
Ravi Prakash
पग पग पे देने पड़ते
पग पग पे देने पड़ते
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
कुंडलिया. . .
कुंडलिया. . .
sushil sarna
"अभी" उम्र नहीं है
Rakesh Rastogi
"बचपन"
Tanveer Chouhan
इतना क्यों व्यस्त हो तुम
इतना क्यों व्यस्त हो तुम
Shiv kumar Barman
अगर मरने के बाद भी जीना चाहो,
अगर मरने के बाद भी जीना चाहो,
Ranjeet kumar patre
गज़ल (राखी)
गज़ल (राखी)
umesh mehra
$ग़ज़ल
$ग़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
बड़ी बात है ....!!
बड़ी बात है ....!!
हरवंश हृदय
सोचता हूँ  ऐ ज़िन्दगी  तुझको
सोचता हूँ ऐ ज़िन्दगी तुझको
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
🙏
🙏
Neelam Sharma
खामोश आवाज़
खामोश आवाज़
Dr. Seema Varma
सुबह होने को है साहब - सोने का टाइम हो रहा है
सुबह होने को है साहब - सोने का टाइम हो रहा है
Atul "Krishn"
चलना है मगर, संभलकर...!
चलना है मगर, संभलकर...!
VEDANTA PATEL
जर जमीं धन किसी को तुम्हारा मिले।
जर जमीं धन किसी को तुम्हारा मिले।
सत्य कुमार प्रेमी
उम्मीद - ए - आसमां से ख़त आने का इंतजार हमें भी है,
उम्मीद - ए - आसमां से ख़त आने का इंतजार हमें भी है,
manjula chauhan
आजमाइश
आजमाइश
AJAY AMITABH SUMAN
जब आए शरण विभीषण तो प्रभु ने लंका का राज दिया।
जब आए शरण विभीषण तो प्रभु ने लंका का राज दिया।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
Ye chad adhura lagta hai,
Ye chad adhura lagta hai,
Sakshi Tripathi
ख्वाबों से निकल कर कहां जाओगे
ख्वाबों से निकल कर कहां जाओगे
VINOD CHAUHAN
Loading...