Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Nov 2023 · 1 min read

अपने होने की

ज़िंदगी तुझसे इतना तो निभा ही देंगे ।
अपने होने की हम खुद ही गवाही देंगे ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
2 Likes · 169 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*पेड़*
*पेड़*
Dushyant Kumar
सुख दुख जीवन के चक्र हैं
सुख दुख जीवन के चक्र हैं
ruby kumari
कलियुग के प्रथम चरण का आरंभ देखिये
कलियुग के प्रथम चरण का आरंभ देखिये
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
" खामोश आंसू "
Aarti sirsat
सविनय निवेदन
सविनय निवेदन
कृष्णकांत गुर्जर
■मौजूदा दौर में...■
■मौजूदा दौर में...■
*प्रणय प्रभात*
अधूरी सी ज़िंदगी   ....
अधूरी सी ज़िंदगी ....
sushil sarna
उन्नति का जन्मदिन
उन्नति का जन्मदिन
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
***संशय***
***संशय***
प्रेमदास वसु सुरेखा
" है वही सुरमा इस जग में ।
Shubham Pandey (S P)
2531.पूर्णिका
2531.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
प्रेम की डोर सदैव नैतिकता की डोर से बंधती है और नैतिकता सत्क
प्रेम की डोर सदैव नैतिकता की डोर से बंधती है और नैतिकता सत्क
Sanjay ' शून्य'
एक पल को न सुकून है दिल को।
एक पल को न सुकून है दिल को।
Taj Mohammad
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
अपभ्रंश-अवहट्ट से,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अधूरा सफ़र
अधूरा सफ़र
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कोई चोर है...
कोई चोर है...
Srishty Bansal
होली पर बस एक गिला।
होली पर बस एक गिला।
सत्य कुमार प्रेमी
ऋतुराज
ऋतुराज
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
मेहनत का फल
मेहनत का फल
Pushpraj Anant
भगवान की तलाश में इंसान
भगवान की तलाश में इंसान
Ram Krishan Rastogi
हंसगति
हंसगति
डॉ.सीमा अग्रवाल
*जग में होता मान उसी का, पैसा जिसके पास है (हिंदी गजल)*
*जग में होता मान उसी का, पैसा जिसके पास है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
♥️♥️दौर ए उल्फत ♥️♥️
umesh mehra
आत्मविश्वास
आत्मविश्वास
Shyam Sundar Subramanian
"पहचानिए"
Dr. Kishan tandon kranti
संस्कार में झुक जाऊं
संस्कार में झुक जाऊं
Ranjeet kumar patre
भय -भाग-1
भय -भाग-1
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
इस नयी फसल में, कैसी कोपलें ये आयीं है।
इस नयी फसल में, कैसी कोपलें ये आयीं है।
Manisha Manjari
विदाई गीत
विदाई गीत
Dr Archana Gupta
Loading...