Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Jul 2023 · 1 min read

अपने कार्यों में अगर आप बार बार असफल नहीं हो रहे हैं तो इसका

अपने कार्यों में अगर आप बार बार असफल नहीं हो रहे हैं तो इसका सीधा अर्थ है कि आप शायद कोई मौलिक या अभिनव कार्य नहीं कर रहे हैं।

Paras Nath Jha

190 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Paras Nath Jha
View all
You may also like:
कितना कोलाहल
कितना कोलाहल
Bodhisatva kastooriya
*धन्य-धन्य वे जिनका जीवन सत्संगों में बीता (मुक्तक)*
*धन्य-धन्य वे जिनका जीवन सत्संगों में बीता (मुक्तक)*
Ravi Prakash
यशस्वी भव
यशस्वी भव
मनोज कर्ण
🌸प्रेम कौतुक-193🌸
🌸प्रेम कौतुक-193🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
■ शेर
■ शेर
*Author प्रणय प्रभात*
खामोशियां पढ़ने का हुनर हो
खामोशियां पढ़ने का हुनर हो
Amit Pandey
फ़र्ज़ ...
फ़र्ज़ ...
Shaily
शादी
शादी
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
राम विवाह कि मेहंदी
राम विवाह कि मेहंदी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
हमारा ऐसा हिंदुस्तान।
हमारा ऐसा हिंदुस्तान।
Satish Srijan
अश्क तन्हाई उदासी रह गई - संदीप ठाकुर
अश्क तन्हाई उदासी रह गई - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
इंसान दुनिया जमाने से भले झूठ कहे
इंसान दुनिया जमाने से भले झूठ कहे
ruby kumari
जेएनयू
जेएनयू
Shekhar Chandra Mitra
भय आपको सत्य से दूर करता है, चाहे वो स्वयं से ही भय क्यों न
भय आपको सत्य से दूर करता है, चाहे वो स्वयं से ही भय क्यों न
Ravikesh Jha
बड़ा सुंदर समागम है, अयोध्या की रियासत में।
बड़ा सुंदर समागम है, अयोध्या की रियासत में।
जगदीश शर्मा सहज
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – आविर्भाव का समय – 02
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – आविर्भाव का समय – 02
Kirti Aphale
मैं उसी पल मर जाऊंगा
मैं उसी पल मर जाऊंगा
श्याम सिंह बिष्ट
यह धरती भी तो, हमारी एक माता है
यह धरती भी तो, हमारी एक माता है
gurudeenverma198
तितली
तितली
Manu Vashistha
मेरी कलम
मेरी कलम
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
मत जला जिंदगी मजबूर हो जाऊंगा मैं ,
मत जला जिंदगी मजबूर हो जाऊंगा मैं ,
कवि दीपक बवेजा
अवसान
अवसान
Shyam Sundar Subramanian
3056.*पूर्णिका*
3056.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दिल की धड़कन भी तुम सदा भी हो । हो मेरे साथ तुम जुदा भी हो ।
दिल की धड़कन भी तुम सदा भी हो । हो मेरे साथ तुम जुदा भी हो ।
Neelam Sharma
ज़िंदगी ऐसी
ज़िंदगी ऐसी
Dr fauzia Naseem shad
"दो पल की जिंदगी"
Yogendra Chaturwedi
और नहीं बस और नहीं, धरती पर हिंसा और नहीं
और नहीं बस और नहीं, धरती पर हिंसा और नहीं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"याद रखें"
Dr. Kishan tandon kranti
लैला अब नही थामती किसी वेरोजगार का हाथ
लैला अब नही थामती किसी वेरोजगार का हाथ
yuvraj gautam
संसार में
संसार में
Brijpal Singh
Loading...