Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Apr 2023 · 1 min read

अन्त हुआ आतंक का,

अन्त हुआ आतंक का,
सही चुनी सरकार
अपराधी हैं ख़ौफ़ में,
योगी है दमदार
महावीर उत्तरांचली

1 Like · 242 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
View all
You may also like:
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
हरवंश हृदय
గురువు కు వందనం.
గురువు కు వందనం.
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
"जियो जिन्दगी"
Dr. Kishan tandon kranti
ତାଙ୍କଠାରୁ ଅଧିକ
ତାଙ୍କଠାରୁ ଅଧିକ
Otteri Selvakumar
Suno
Suno
पूर्वार्थ
जिंदगी जिंदादिली का नाम है
जिंदगी जिंदादिली का नाम है
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
तलास है उस इंसान की जो मेरे अंदर उस वक्त दर्द देख ले जब लोग
तलास है उस इंसान की जो मेरे अंदर उस वक्त दर्द देख ले जब लोग
Rituraj shivem verma
जितना मिला है उतने में ही खुश रहो मेरे दोस्त
जितना मिला है उतने में ही खुश रहो मेरे दोस्त
कृष्णकांत गुर्जर
कविताएँ
कविताएँ
Shyam Pandey
प्रयास
प्रयास
Dr fauzia Naseem shad
तुमसे मैं प्यार करता हूँ
तुमसे मैं प्यार करता हूँ
gurudeenverma198
मेरे जाने के बाद ,....
मेरे जाने के बाद ,....
ओनिका सेतिया 'अनु '
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
हर एकपल तेरी दया से माँ
हर एकपल तेरी दया से माँ
Basant Bhagawan Roy
स्वामी विवेकानंद
स्वामी विवेकानंद
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
तुम्हारी है जुस्तजू
तुम्हारी है जुस्तजू
Surinder blackpen
बन्दे   तेरी   बन्दगी  ,कौन   करेगा   यार ।
बन्दे तेरी बन्दगी ,कौन करेगा यार ।
sushil sarna
*ये आती और जाती सांसें*
*ये आती और जाती सांसें*
sudhir kumar
तुम्हारी सादगी ही कत्ल करती है मेरा,
तुम्हारी सादगी ही कत्ल करती है मेरा,
Vishal babu (vishu)
"शौर्य"
Lohit Tamta
नारी क्या है
नारी क्या है
Ram Krishan Rastogi
न  सूरत, न  शोहरत, न  नाम  आता  है
न सूरत, न शोहरत, न नाम आता है
Anil Mishra Prahari
रावण
रावण
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
मेरी हैसियत
मेरी हैसियत
आर एस आघात
*जीवन में तुकबंदी का महत्व (हास्य व्यंग्य)*
*जीवन में तुकबंदी का महत्व (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
तेरे मेरे बीच में
तेरे मेरे बीच में
नेताम आर सी
"निखार" - ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
ये दुनिया घूम कर देखी
ये दुनिया घूम कर देखी
Phool gufran
जीने की वजह हो तुम
जीने की वजह हो तुम
Surya Barman
ग़ज़ल
ग़ज़ल
SURYA PRAKASH SHARMA
Loading...