Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2023 · 1 min read

अजीब होता है बुलंदियों का सबब

अजीब होता है बुलंदियों का सबब
……………. 🙂

इंसान अकेला हो जाता है बुलंदियों तक पहुंचते-पहुंचते

कवि दीपक सरल

2 Likes · 151 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2747. *पूर्णिका*
2747. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
वैष्णों भोजन खाइए,
वैष्णों भोजन खाइए,
Satish Srijan
If we’re just getting to know each other…call me…don’t text.
If we’re just getting to know each other…call me…don’t text.
पूर्वार्थ
💐प्रेम कौतुक-296💐
💐प्रेम कौतुक-296💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रेम
प्रेम
विमला महरिया मौज
अमृतकलश
अमृतकलश
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
आजकल गजब का खेल चल रहा है
आजकल गजब का खेल चल रहा है
Harminder Kaur
दिल से जाना
दिल से जाना
Sangeeta Beniwal
वफा से वफादारो को पहचानो
वफा से वफादारो को पहचानो
goutam shaw
तत्काल लाभ के चक्कर में कोई ऐसा कार्य नहीं करें, जिसमें धन भ
तत्काल लाभ के चक्कर में कोई ऐसा कार्य नहीं करें, जिसमें धन भ
Paras Nath Jha
वो लड़की
वो लड़की
Kunal Kanth
మంత్రాలయము మహా పుణ్య క్షేత్రము
మంత్రాలయము మహా పుణ్య క్షేత్రము
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
हे!जगजीवन,हे जगनायक,
हे!जगजीवन,हे जगनायक,
Neelam Sharma
गुरु पूर्णिमा आ वर्तमान विद्यालय निरीक्षण आदेश।
गुरु पूर्णिमा आ वर्तमान विद्यालय निरीक्षण आदेश।
Acharya Rama Nand Mandal
जब तक हयात हो
जब तक हयात हो
Dr fauzia Naseem shad
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
"तेरा साथ है तो"
Dr. Kishan tandon kranti
हाइकु - 1
हाइकु - 1
Sandeep Pande
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हर नदी अपनी राह खुद ब खुद बनाती है ।
हर नदी अपनी राह खुद ब खुद बनाती है ।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
चंद अशआर -ग़ज़ल
चंद अशआर -ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
■ 80 फीसदी मुफ्तखोरों की सोच।
■ 80 फीसदी मुफ्तखोरों की सोच।
*Author प्रणय प्रभात*
गले की फांस
गले की फांस
Dr. Pradeep Kumar Sharma
नजरे मिली धड़कता दिल
नजरे मिली धड़कता दिल
Khaimsingh Saini
महोब्बत के नशे मे उन्हें हमने खुदा कह डाला
महोब्बत के नशे मे उन्हें हमने खुदा कह डाला
शेखर सिंह
उसकी अदा
उसकी अदा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दिलबर दिलबर
दिलबर दिलबर
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दिल का दर्द💔🥺
दिल का दर्द💔🥺
$úDhÁ MãÚ₹Yá
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
*सुना है आजकल हाकिम से, सेटिंग का जमाना है【हिंदी गजल/गीतिका】
*सुना है आजकल हाकिम से, सेटिंग का जमाना है【हिंदी गजल/गीतिका】
Ravi Prakash
Loading...