Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Jun 2018 · 1 min read

“अंजाम बाकी है”

“अभी तो चलना शुरू किए हम,
अभी मकाम बाकी है ,
जिगर में हौसला है मेरे ,
हमारी जान बाकी है,
जमीं को छुआ है हमने,
अभी आसमान बाकी है,
सवालों के घेरे तोड़ रहे हैं,
अभी इम्तिहान बाकी है,
हर मुश्किल से लड़ जायेंगे,
अभी इत्मिनान बाकी है,
उजालो में क्या इतराना,
सूरज का ढलना बाकी है,
रोशनी ना होगी राहों में,
अँधेरो में चलना बाकी है,
हो गयी खामोश देखकर मुझे बिजलियाँ,
क़हर का खौफ़ नही है,ना फिक्र है तूफ़ां की,
आँधियों में भी मेरा मकान बाकी है,
रास्ते बंद है गुलशन के तो क्या गिला यारों,
सबा के वास्ते सारा ज़हान बाकी है,
बंद पिंजरों के परिंदों को है कहाँ मालूम,
आसमां के लिए कितनी उड़ान बाकी है,

Language: Hindi
1 Like · 1 Comment · 243 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
उसे भूला देना इतना आसान नहीं है
उसे भूला देना इतना आसान नहीं है
Keshav kishor Kumar
तजुर्बे से तजुर्बा मिला,
तजुर्बे से तजुर्बा मिला,
Smriti Singh
रज़ा से उसकी अगर
रज़ा से उसकी अगर
Dr fauzia Naseem shad
"सैनिक की चिट्ठी"
Ekta chitrangini
खुली किताब सी लगती हो
खुली किताब सी लगती हो
Jitendra Chhonkar
3064.*पूर्णिका*
3064.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आ गए आसमाॅ॑ के परिंदे
आ गए आसमाॅ॑ के परिंदे
VINOD CHAUHAN
*परिवार: सात दोहे*
*परिवार: सात दोहे*
Ravi Prakash
कसौटी
कसौटी
Sanjay ' शून्य'
बाकी है...!!
बाकी है...!!
Srishty Bansal
कमाल लोग होते हैं वो
कमाल लोग होते हैं वो
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
Change is hard at first, messy in the middle, gorgeous at th
Change is hard at first, messy in the middle, gorgeous at th
पूर्वार्थ
जननी
जननी
Mamta Rani
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ६)
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ६)
Kanchan Khanna
अपना सब संसार
अपना सब संसार
महेश चन्द्र त्रिपाठी
बढ़ी शय है मुहब्बत
बढ़ी शय है मुहब्बत
shabina. Naaz
चरागो पर मुस्कुराते चहरे
चरागो पर मुस्कुराते चहरे
शेखर सिंह
चमकते सूर्य को ढलने न दो तुम
चमकते सूर्य को ढलने न दो तुम
कृष्णकांत गुर्जर
मेरा गांव
मेरा गांव
अनिल "आदर्श"
वादा करती हूं मै भी साथ रहने का
वादा करती हूं मै भी साथ रहने का
Ram Krishan Rastogi
पत्रकार की कलम देख डरे
पत्रकार की कलम देख डरे
Neeraj Mishra " नीर "
भारत के वीर जवान
भारत के वीर जवान
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
होरी खेलन आयेनहीं नन्दलाल
होरी खेलन आयेनहीं नन्दलाल
Bodhisatva kastooriya
जुनून
जुनून
अखिलेश 'अखिल'
"सफलता का राज"
Dr. Kishan tandon kranti
बरसातों में मीत की,
बरसातों में मीत की,
sushil sarna
रम्मी खेलकर लोग रातों रात करोड़ पति बन रहे हैं अगर आपने भी स
रम्मी खेलकर लोग रातों रात करोड़ पति बन रहे हैं अगर आपने भी स
Sonam Puneet Dubey
सिर्फ दरवाजे पे शुभ लाभ,
सिर्फ दरवाजे पे शुभ लाभ,
नेताम आर सी
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
*** तस्वीर....!!! ***
*** तस्वीर....!!! ***
VEDANTA PATEL
Loading...