Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Feb 2023 · 1 min read

Unki julfo ki ghata bhi shadid takat rakhti h

Unki julfo ki ghata bhi shadid takat rakhti h
Ki ek pal me uth jaye to agle pal me duniya se uthane ki takat rakhti h 😍
By sakshi

90 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
छोड़ जाएंगे
छोड़ जाएंगे
रोहताश वर्मा मुसाफिर
एक शेर
एक शेर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
सितारे  अपने  आजकल  गर्दिश  में  चल  रहे  है
सितारे अपने आजकल गर्दिश में चल रहे है
shabina. Naaz
2271.
2271.
Dr.Khedu Bharti
हवा बहुत सर्द है
हवा बहुत सर्द है
श्री रमण 'श्रीपद्'
किसी को भूल कर जीना
किसी को भूल कर जीना
Dr fauzia Naseem shad
बापू की पुण्य तिथि पर
बापू की पुण्य तिथि पर
Ram Krishan Rastogi
हट जा हट जा भाल से रेखा
हट जा हट जा भाल से रेखा
सूर्यकांत द्विवेदी
💐अज्ञात के प्रति-117💐
💐अज्ञात के प्रति-117💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
তুমি সমুদ্রের তীর
তুমি সমুদ্রের তীর
Sakhawat Jisan
होली...
होली...
Aadarsh Dubey
"बारिश की बूंदें" (Raindrops)
Sidhartha Mishra
एक तुम्हारे होने से....!!!
एक तुम्हारे होने से....!!!
Kanchan Khanna
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
गोलगप्पा/पानीपूरी
गोलगप्पा/पानीपूरी
लक्ष्मी सिंह
संसद
संसद
Bodhisatva kastooriya
वज़ूद
वज़ूद
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
तेरी परवाह करते हुए ,
तेरी परवाह करते हुए ,
Buddha Prakash
अपना भी नहीं बनाया उसने और
अपना भी नहीं बनाया उसने और
कवि दीपक बवेजा
Maturity is not when we start observing , judging or critici
Maturity is not when we start observing , judging or critici
Leena Anand
*कार्यकर्ता (गीत)*
*कार्यकर्ता (गीत)*
Ravi Prakash
सिया राम विरह वेदना
सिया राम विरह वेदना
Er.Navaneet R Shandily
काश लौट कर आए वो पुराने जमाने का समय ,
काश लौट कर आए वो पुराने जमाने का समय ,
Shashi kala vyas
Aksar rishte wahi tikte hai
Aksar rishte wahi tikte hai
Sakshi Tripathi
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
Vishal babu (vishu)
धर्मगुरु और राजनेता
धर्मगुरु और राजनेता
Shekhar Chandra Mitra
रिश्तों को कभी दौलत की
रिश्तों को कभी दौलत की
rajeev ranjan
मैथिली पेटपोसुआ के गोंधियागिरी?
मैथिली पेटपोसुआ के गोंधियागिरी?
Dr. Kishan Karigar
"बर्बादी का बीज"
Dr. Kishan tandon kranti
जिंदगी और उलझनें, सॅंग सॅंग चलेंगी दोस्तों।
जिंदगी और उलझनें, सॅंग सॅंग चलेंगी दोस्तों।
सत्य कुमार प्रेमी
Loading...