Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Jun 2023 · 1 min read

The story of the two boy

The story of the two boy
The story of two boys begins with these the two boy name was shyam and ram the two boys were best friend one day the shyam got a job on railway station and the ram also get job in the railway station many days later the shyam go to the Bihar state and the ram stay there the shyam make new friends one day the ram got an accident and he called the shyam and asked some rupees to get the treatement shyam said who are you I don’t now who are you the ram said i am ram your best friend the shyam said i donot give the rupees for your treatment you are not my best friend the ram was very sad and do his treatment after many days the shyam called and said friend please help me please give me 100000rupees for my treatement of my family the ram give 100000 rupees .

1 Like · 202 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
साधु न भूखा जाय
साधु न भूखा जाय
डॉ.श्री रमण 'श्रीपद्'
नाही काहो का शोक
नाही काहो का शोक
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
“ टैग मत करें ”
“ टैग मत करें ”
DrLakshman Jha Parimal
बारिश का मौसम 🌧️
बारिश का मौसम 🌧️
Skanda Joshi
हम पत्थर है
हम पत्थर है
Umender kumar
जिसने भी तुमको देखा है पहली बार ..
जिसने भी तुमको देखा है पहली बार ..
Tarun Garg
दिल बहलाएँ हम
दिल बहलाएँ हम
Dr. Sunita Singh
जिंदगी की राह आसान नहीं थी....
जिंदगी की राह आसान नहीं थी....
Ashish shukla
बदलता भारत
बदलता भारत
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
कुल के दीपक
कुल के दीपक
Utkarsh Dubey “Kokil”
छत्तीसगढ़ रत्न (जीवनी पुस्तक)
छत्तीसगढ़ रत्न (जीवनी पुस्तक)
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Global climatic change and it's impact on Human life
Global climatic change and it's impact on Human life
Shyam Sundar Subramanian
#क़तआ (मुक्तक)
#क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
दोस्ती और कर्ण
दोस्ती और कर्ण
मनोज कर्ण
#हँसी
#हँसी
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
खुद को बहला रहे हैं।
खुद को बहला रहे हैं।
Taj Mohammad
कोशिश करने वाले की हार नहीं होती। आज मैं CA बन गया। CA Amit
कोशिश करने वाले की हार नहीं होती। आज मैं CA बन गया। CA Amit
CA Amit Kumar
आख़िरी ग़ुलाम
आख़िरी ग़ुलाम
Shekhar Chandra Mitra
रामराज्य
रामराज्य
कार्तिक नितिन शर्मा
माटी के पुतले
माटी के पुतले
AMRESH KUMAR VERMA
गदा हनुमान जी की
गदा हनुमान जी की
AJAY AMITABH SUMAN
मन की पीड़ा
मन की पीड़ा
Dr fauzia Naseem shad
*अतिक्रमण ( हिंदी गजल/गीतिका )*
*अतिक्रमण ( हिंदी गजल/गीतिका )*
Ravi Prakash
सीमा पर हम प्रहरी बनकर अरि को मार भगाएंगे
सीमा पर हम प्रहरी बनकर अरि को मार भगाएंगे
Dr Archana Gupta
Where is Humanity
Where is Humanity
Dheerendra Panchal
सितम फिरदौस ना जानो
सितम फिरदौस ना जानो
प्रेमदास वसु सुरेखा
फेसबुक की बनिया–बुद्धि / मुसाफ़िर बैठा
फेसबुक की बनिया–बुद्धि / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
💐 गुजरती शाम के पैग़ाम💐
💐 गुजरती शाम के पैग़ाम💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चॉकलेट
चॉकलेट
सुरेश अजगल्ले"इंद्र"
अलविदा कहने से पहले
अलविदा कहने से पहले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...