Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Mar 2023 · 1 min read

The Little stars!

The Little stars!The Little stars!
Shining up above inthe sky,
Blinking like pearl in night,
They are wonder charming and bright.

The Little stars!The Little stars!
Uncountable spreaded in the sky,
Blessing like white angle in night,
They are far god created in the universe.

Written by-
Buddha Prakash,
Maudaha Hamirpur(U.P.)

Language: English
1 Like · 55 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.

Books from Buddha Prakash

You may also like:
- मर चुकी इंसानियत -
- मर चुकी इंसानियत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
मैं आंसू बहाता रहा,
मैं आंसू बहाता रहा,
अनिल अहिरवार"अबीर"
उफ़ वो उनकी कातिल भरी निगाहें,
उफ़ वो उनकी कातिल भरी निगाहें,
Vishal babu (vishu)
मस्ती का त्यौहार है,  खिली बसंत बहार
मस्ती का त्यौहार है, खिली बसंत बहार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दुर्जन ही होंगे जो देंगे दुर्जन का साथ ,
दुर्जन ही होंगे जो देंगे दुर्जन का साथ ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
💐अज्ञात के प्रति-88💐
💐अज्ञात के प्रति-88💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नेह का दीपक
नेह का दीपक
Arti Bhadauria
मैं ऐसा नही चाहता
मैं ऐसा नही चाहता
Rohit yadav
चक्षु द्वय काजर कोठरी , मोती अधरन बीच ।
चक्षु द्वय काजर कोठरी , मोती अधरन बीच ।
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
कह कर गुजर गई उस रास्ते से,
कह कर गुजर गई उस रास्ते से,
Shakil Alam
बरसात
बरसात
Bodhisatva kastooriya
மர்மம்
மர்மம்
Shyam Sundar Subramanian
मन की पीड़ा
मन की पीड़ा
Dr fauzia Naseem shad
It is not necessary to be beautiful for beauty,
It is not necessary to be beautiful for beauty,
Sakshi Tripathi
मुट्ठी भर आस
मुट्ठी भर आस
Kavita Chouhan
कटी नयन में रात...
कटी नयन में रात...
डॉ.सीमा अग्रवाल
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते हैं, पर उनकी बातों में विश
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते हैं, पर उनकी बातों में विश
जय लगन कुमार हैप्पी
प्रथम दृष्टांत में यदि आपकी कोई बातें वार्तालाभ ,संवाद या लि
प्रथम दृष्टांत में यदि आपकी कोई बातें वार्तालाभ ,संवाद या लि
DrLakshman Jha Parimal
भिनसार हो गया
भिनसार हो गया
Satish Srijan
अपने-अपने राम
अपने-अपने राम
Shekhar Chandra Mitra
दोहा
दोहा
प्रीतम श्रावस्तवी
आम आदमी की आवाज हैं नागार्जुन
आम आदमी की आवाज हैं नागार्जुन
Ravi Prakash
हैप्पी प्रॉमिस डे
हैप्पी प्रॉमिस डे
gurudeenverma198
पातुक
पातुक
शांतिलाल सोनी
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
हिन्दी दोहा बिषय- तारे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
पंचशील गीत
पंचशील गीत
Buddha Prakash
मंगल मूरत
मंगल मूरत
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
🪔🪔दीपमालिका सजाओ तुम।
🪔🪔दीपमालिका सजाओ तुम।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
🙅नई परिभाषा🙅
🙅नई परिभाषा🙅
*Author प्रणय प्रभात*
मोर
मोर
Manu Vashistha
Loading...