Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 29, 2021 · 1 min read

Freedom of Speech

I want to
Spread
Renaissance
In my country.
Kabeer,
Socrates,
Khalil Gibran,
Osho,
Ambedkar
And
Bhagat Singh
Are my
Heroes.
I am also
Inspired by
Rajaram Mohan Roy.
Premchand’s
Literature was
Also called
The hate speech.
Manto was
Also blamed
For his writings.

5 Comments · 236 Views
You may also like:
सुरज से सीखों
Anamika Singh
मज़ाक।
Taj Mohammad
स्मृति : पंडित प्रकाश चंद्र जी
Ravi Prakash
HAPPY BIRTHDAY SHIVANS
KAMAL THAKUR
saliqe se hawaon mein jo khushbu ghol sakte hain
Muhammad Asif Ali
चमचागिरी
सूर्यकांत द्विवेदी
चराग़ों को जलाने से
Shivkumar Bilagrami
देख कर
Dr fauzia Naseem shad
जश्न आजादी का
Kanchan Khanna
मेरे करीब़ हो तुम
VINOD KUMAR CHAUHAN
पिता, पिता बने आकाश
indu parashar
ज़िंदा हूं मरा नहीं हूं।
Taj Mohammad
तो क्या होगा?
Shekhar Chandra Mitra
भगवान सा इंसान को दिल में सजा के देख।
सत्य कुमार प्रेमी
आजादी की कभी शाम ना हम होने देंगे
Ram Krishan Rastogi
✍️इरादे हो तूफाँ के✍️
'अशांत' शेखर
दुआ
Alok Saxena
मेरी ये जां।
Taj Mohammad
खत्म तुमको भी मैं कर देता अब तक
gurudeenverma198
संस्मरण:भगवान स्वरूप सक्सेना "मुसाफिर"
Ravi Prakash
काश तुम
Dr fauzia Naseem shad
सुना है।
Taj Mohammad
कारवाँ:श्री दयानंद गुप्त समग्र
Ravi Prakash
श्रृंगार
Alok Saxena
पिता मेरे /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बेजुबान और कसाई
मनोज कर्ण
आंखों में जब
Dr fauzia Naseem shad
Security Guard
Buddha Prakash
रूखा रे ! यह झाड़ / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
राम घोष गूंजें नभ में
शेख़ जाफ़र खान
Loading...