Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Apr 2024 · 1 min read

Dr Arun Kumar shastri

Dr Arun Kumar shastri
वस्तुएं व व्यक्ति कभी खोते नहीं हैं हमारी गलत नीतियों व अव्यवहारिक दृष्टिकोण या सतत सम्पर्क उनसे विछिन्न हो जाने के कारण वे हमारी दृष्टि , पहुंच व दायरे से दूर हो जाती /जाते हैं।

48 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
Don't bask in your success
Don't bask in your success
सिद्धार्थ गोरखपुरी
सादिक़ तकदीर  हो  जायेगा
सादिक़ तकदीर हो जायेगा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
……..नाच उठी एकाकी काया
……..नाच उठी एकाकी काया
Rekha Drolia
मशीनों ने इंसान को जन्म दिया है
मशीनों ने इंसान को जन्म दिया है
Bindesh kumar jha
नित  हर्ष  रहे   उत्कर्ष  रहे,   कर  कंचनमय  थाल  रहे ।
नित हर्ष रहे उत्कर्ष रहे, कर कंचनमय थाल रहे ।
Ashok deep
"ज्ञ " से ज्ञानी हम बन जाते हैं
Ghanshyam Poddar
ग़ज़ल/नज़्म - वो ही वैलेंटाइन डे था
ग़ज़ल/नज़्म - वो ही वैलेंटाइन डे था
अनिल कुमार
Apne yeh toh suna hi hoga ki hame bado ki respect karni chah
Apne yeh toh suna hi hoga ki hame bado ki respect karni chah
Divija Hitkari
याद आती है हर बात
याद आती है हर बात
Surinder blackpen
दरारें छुपाने में नाकाम
दरारें छुपाने में नाकाम
*प्रणय प्रभात*
नमस्कार मित्रो !
नमस्कार मित्रो !
Mahesh Jain 'Jyoti'
जो बालक मातृभाषा को  सही से सीख  लेते हैं ! वही अपने समाजों
जो बालक मातृभाषा को सही से सीख लेते हैं ! वही अपने समाजों
DrLakshman Jha Parimal
बारम्बार प्रणाम
बारम्बार प्रणाम
Pratibha Pandey
गुरु गोविंद सिंह जी की बात बताऊँ
गुरु गोविंद सिंह जी की बात बताऊँ
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
छप्पन भोग
छप्पन भोग
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
प्रत्याशी को जाँचकर , देना  अपना  वोट
प्रत्याशी को जाँचकर , देना अपना वोट
Dr Archana Gupta
Feelings of love
Feelings of love
Bidyadhar Mantry
2775. *पूर्णिका*
2775. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
खजुराहो
खजुराहो
Paramita Sarangi
फांसी का फंदा भी कम ना था,
फांसी का फंदा भी कम ना था,
Rahul Singh
नारी बिन नर अधूरा✍️
नारी बिन नर अधूरा✍️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मसीहा उतर आया है मीनारों पर
मसीहा उतर आया है मीनारों पर
Maroof aalam
इस संसार में क्या शुभ है और क्या अशुभ है
इस संसार में क्या शुभ है और क्या अशुभ है
शेखर सिंह
*सरिता में दिख रही भॅंवर है, फॅंसी हुई ज्यों नैया है (हिंदी
*सरिता में दिख रही भॅंवर है, फॅंसी हुई ज्यों नैया है (हिंदी
Ravi Prakash
निकले थे चांद की तलाश में
निकले थे चांद की तलाश में
Dushyant Kumar Patel
सम्मान
सम्मान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"आशा"
Dr. Kishan tandon kranti
सब सूना सा हो जाता है
सब सूना सा हो जाता है
Satish Srijan
शादी कुँवारे से हो या शादीशुदा से,
शादी कुँवारे से हो या शादीशुदा से,
Dr. Man Mohan Krishna
*ख़ुशी की बछिया* ( 15 of 25 )
*ख़ुशी की बछिया* ( 15 of 25 )
Kshma Urmila
Loading...