Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Apr 2023 · 1 min read

Asman se khab hmare the,

Asman se khab hmare the,
Jb hum sab bachhe pyare the.
Na kohra tha dhup thi ,
Bus rang birange chadar the.
Kbhi phoolo se lahrate the ,
Kbhi titli si udd jate the.
Na khauf tha na gam tha,
Maa ke anchal ki khushiya bhari thi.
Dipak se jalte khab gaye,
Ek kadam badhane jb hum lage.
Bandish rito se sej saji,
Ab wakt ke chaukidar khade.
Na khushiya hai na bachpan hai,
Jivan bit rha kathinayi se.
Asman se khab hmare the
Jb hum sab bache pyare the.
Ye moh najane kb lalach ka,
Bicchu bankar ab dass dale.
Pahle roti khate the sukun ki,
Ab roti ko kamate hai .

2 Likes · 239 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to get all the exciting updates about our writing competitions, latest published books, author interviews and much more, directly on your phone.
You may also like:
मजदूर दिवस पर
मजदूर दिवस पर
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
हड़ताल
हड़ताल
नेताम आर सी
किसी वजह से जब तुम दोस्ती निभा न पाओ
किसी वजह से जब तुम दोस्ती निभा न पाओ
ruby kumari
गर्मी
गर्मी
Ram Krishan Rastogi
सावन की शुचि तरुणाई का,सुंदर दृश्य दिखा है।
सावन की शुचि तरुणाई का,सुंदर दृश्य दिखा है।
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
जे सतावेला अपना माई-बाप के
जे सतावेला अपना माई-बाप के
Shekhar Chandra Mitra
आँखों की दुनिया
आँखों की दुनिया
Sidhartha Mishra
कुण्डलिया
कुण्डलिया
शेख़ जाफ़र खान
श्री भूकन शरण आर्य
श्री भूकन शरण आर्य
Ravi Prakash
एक कदम सफलता की ओर...
एक कदम सफलता की ओर...
Manoj Kushwaha PS
*
*"रक्षाबन्धन"* *"काँच की चूड़ियाँ"*
Radhakishan R. Mundhra
■ हर जगह मारा-मारी है जी अब। और कोई काम बचा नहीं बिना लागत क
■ हर जगह मारा-मारी है जी अब। और कोई काम बचा नहीं बिना लागत क
*Author प्रणय प्रभात*
मोहब्बत का गम है।
मोहब्बत का गम है।
Taj Mohammad
मजबूरी नहीं जरूरी
मजबूरी नहीं जरूरी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
आशा की किरण
आशा की किरण
Nanki Patre
*
*"चित्रगुप्त की परेशानी"*
Shashi kala vyas
"अतितॄष्णा न कर्तव्या तॄष्णां नैव परित्यजेत्।
Mukul Koushik
सर-ए-बाजार पीते हो...
सर-ए-बाजार पीते हो...
आकाश महेशपुरी
फूल ही फूल
फूल ही फूल
shabina. Naaz
हम तो किरदार की
हम तो किरदार की
Dr fauzia Naseem shad
बुआ आई
बुआ आई
राजेश 'ललित'
In adverse circumstances, neither the behavior nor the festi
In adverse circumstances, neither the behavior nor the festi
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आओ दीप जलाएं
आओ दीप जलाएं
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
किसी ने कहा, पीड़ा को स्पर्श करना बंद कर पीड़ा कम जायेगी।
किसी ने कहा, पीड़ा को स्पर्श करना बंद कर पीड़ा कम जायेगी।
Manisha Manjari
गीत
गीत
Shiva Awasthi
I sit at dark to bright up in the sky 😍 by sakshi
I sit at dark to bright up in the sky 😍 by sakshi
Sakshi Tripathi
कारण कोई बतायेगा
कारण कोई बतायेगा
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
💐💐प्रेम की राह पर-50💐💐
💐💐प्रेम की राह पर-50💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Save the forest.
Save the forest.
Buddha Prakash
कण-कण में श्रीराम हैं, रोम-रोम में राम ।
कण-कण में श्रीराम हैं, रोम-रोम में राम ।
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...