Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Jul 2023 · 1 min read

2389.पूर्णिका

2389.पूर्णिका
🌷अपने भी बेगाने हो गए 🌷
22 22 22 2212
अपने भी यूं बेगाने हो गए ।
हम काँटों के दीवाने हो गए ।।
जैसे तैसे कटती है जिंदगी ।
पग पग पर अब मयखाने हो गए ।।
है अंधेरा ना बिखरे रौशनी ।
चमके घर घर पैखाने हो गए ।।
ये कद भी दुनिया में छोटे बड़े ।
देखो क्या क्या पैमाने हो गए ।।
घोट गला खुद खेदू पी ले जहर।
गीत यहाँ दर्द के गाने हो गए ।।
……….✍डॉ .खेदू भारती”सत्येश”
10-7-2023सोमवार

86 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अनजान दीवार
अनजान दीवार
Mahender Singh
समाज का डर
समाज का डर
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
■सत्ता के लिए■
■सत्ता के लिए■
*प्रणय प्रभात*
पापा की तो बस यही परिभाषा हैं
पापा की तो बस यही परिभाषा हैं
Dr Manju Saini
खेल और राजनीती
खेल और राजनीती
'अशांत' शेखर
सावन के झूलें कहे, मन है बड़ा उदास ।
सावन के झूलें कहे, मन है बड़ा उदास ।
रेखा कापसे
बिहार एवं झारखण्ड के दलक कवियों में विगलित दलित व आदिवासी-चेतना / मुसाफ़िर बैठा
बिहार एवं झारखण्ड के दलक कवियों में विगलित दलित व आदिवासी-चेतना / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
मै श्मशान घाट की अग्नि हूँ ,
मै श्मशान घाट की अग्नि हूँ ,
Pooja Singh
मसान.....
मसान.....
Manisha Manjari
वो भी थी क्या मजे की ज़िंदगी, जो सफ़र में गुजर चले,
वो भी थी क्या मजे की ज़िंदगी, जो सफ़र में गुजर चले,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
व्यावहारिक सत्य
व्यावहारिक सत्य
Shyam Sundar Subramanian
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
Rj Anand Prajapati
वफा से वफादारो को पहचानो
वफा से वफादारो को पहचानो
goutam shaw
*रिमझिम-रिमझिम बूॅंदें बरसीं, गाते मेघ-मल्हार (गीत)*
*रिमझिम-रिमझिम बूॅंदें बरसीं, गाते मेघ-मल्हार (गीत)*
Ravi Prakash
*पानी केरा बुदबुदा*
*पानी केरा बुदबुदा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मातृस्वरूपा प्रकृति
मातृस्वरूपा प्रकृति
ऋचा पाठक पंत
सहज रिश्ता
सहज रिश्ता
Dr. Rajeev Jain
बिना बकरे वाली ईद आप सबको मुबारक़ हो।
बिना बकरे वाली ईद आप सबको मुबारक़ हो।
Artist Sudhir Singh (सुधीरा)
* सिला प्यार का *
* सिला प्यार का *
surenderpal vaidya
आमदनी ₹27 और खर्चा ₹ 29
आमदनी ₹27 और खर्चा ₹ 29
कार्तिक नितिन शर्मा
शादी होते पापड़ ई बेलल जाला
शादी होते पापड़ ई बेलल जाला
आकाश महेशपुरी
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
एक डरा हुआ शिक्षक एक रीढ़विहीन विद्यार्थी तैयार करता है, जो
Ranjeet kumar patre
2590.पूर्णिका
2590.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
राजा अगर मूर्ख हो तो पैसे वाले उसे तवायफ की तरह नचाते है❗
राजा अगर मूर्ख हो तो पैसे वाले उसे तवायफ की तरह नचाते है❗
शेखर सिंह
एहसास
एहसास
भरत कुमार सोलंकी
रावण
रावण
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
"बखान"
Dr. Kishan tandon kranti
Started day with the voice of nature
Started day with the voice of nature
Ankita Patel
सिंदूरी भावों के दीप
सिंदूरी भावों के दीप
Rashmi Sanjay
नववर्ष-अभिनंदन
नववर्ष-अभिनंदन
Kanchan Khanna
Loading...