Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Oct 2023 · 1 min read

23/45.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*

23/45.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
🌷 जिनगी के आधार हरस 🌷
22 22 22 2
जिनगी के आधार हरस।
तैं सपना साकार हरस।।
मिलगे ये भाग्य विधाता ।
तेहर इहां सरकार हरस।।
पाके तोला हिरदे खुश।
दुनिया के चमत्कार हरस।।
पीरित के भाखा संगी ।
मनमोहक इश्तहार हरस।।
साथ निभाबो खेदू हम ।
मोर मया के धार हरस।।
……….✍डॉ .खेदू भारती”सत्येश”
21-10-2023शनिवार

56 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अधर्म का उत्पात
अधर्म का उत्पात
Dr. Harvinder Singh Bakshi
रंगो का है महीना छुटकारा सर्दियों से।
रंगो का है महीना छुटकारा सर्दियों से।
सत्य कुमार प्रेमी
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
बॉलीवुड का क्रैज़ी कमबैक रहा है यह साल - आलेख
बॉलीवुड का क्रैज़ी कमबैक रहा है यह साल - आलेख
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
चित्र और चरित्र
चित्र और चरित्र
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
महामना फुले बजरिए हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
महामना फुले बजरिए हाइकु / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
रंजीत कुमार शुक्ल
रंजीत कुमार शुक्ल
Ranjeet kumar Shukla
पुष्प की व्यथा
पुष्प की व्यथा
Shyam Sundar Subramanian
जब जब तुम्हे भुलाया
जब जब तुम्हे भुलाया
Bodhisatva kastooriya
Cottage house
Cottage house
Otteri Selvakumar
*उल्लू (बाल कविता)*
*उल्लू (बाल कविता)*
Ravi Prakash
एक सूखा सा वृक्ष...
एक सूखा सा वृक्ष...
Awadhesh Kumar Singh
मैं दोस्तों से हाथ मिलाने में रह गया कैसे ।
मैं दोस्तों से हाथ मिलाने में रह गया कैसे ।
Neelam Sharma
Bahut hui lukka chhipi ,
Bahut hui lukka chhipi ,
Sakshi Tripathi
जीवन -जीवन होता है
जीवन -जीवन होता है
Dr fauzia Naseem shad
‘लोक कवि रामचरन गुप्त’ के 6 यथार्थवादी ‘लोकगीत’
‘लोक कवि रामचरन गुप्त’ के 6 यथार्थवादी ‘लोकगीत’
कवि रमेशराज
हिंदी माता की आराधना
हिंदी माता की आराधना
ओनिका सेतिया 'अनु '
आस्था
आस्था
DR ARUN KUMAR SHASTRI
■ आज का प्रहार
■ आज का प्रहार
*Author प्रणय प्रभात*
राह पर चलना पथिक अविराम।
राह पर चलना पथिक अविराम।
Anil Mishra Prahari
हमारा साथ और यह प्यार
हमारा साथ और यह प्यार
gurudeenverma198
चॅंद्रयान
चॅंद्रयान
Paras Nath Jha
प्यारी ननद - कहानी
प्यारी ननद - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
2736. *पूर्णिका*
2736. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
पंकज कुमार कर्ण
कह पाना मुश्किल बहुत, बातें कही हमें।
कह पाना मुश्किल बहुत, बातें कही हमें।
surenderpal vaidya
साँझ ढले ही आ बसा, पलकों में अज्ञात।
साँझ ढले ही आ बसा, पलकों में अज्ञात।
डॉ.सीमा अग्रवाल
" मृत्यु "
Dr. Kishan tandon kranti
मजबूरी
मजबूरी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जबसे उनको रकीब माना है।
जबसे उनको रकीब माना है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
Loading...