Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Oct 2023 · 1 min read

23/105.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*

23/105.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
🌷 नीयत मा झन खोट रख🌷
22 22 212
नीयत मा झन खोट रख ।
तै मन मा झन चोट रख ।।
महकत ये जिनगी सुघ्घर ।
अपन गला झन घोट रख ।।
दुनिया बनही नेक ले।
सोच अपन झन छोट रख ।।
बांट मया पाबे मया।
अपन सस्ता झन वोट रख ।।
खुद के खेदू शान हे।
नव शाही लंगोट रख।।
………….✍डॉ .खेदू भारती”सत्येश”
31-10-2023मंगलवार

234 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बहुत अंदर तक जला देती हैं वो शिकायतें,
बहुत अंदर तक जला देती हैं वो शिकायतें,
शेखर सिंह
2329.पूर्णिका
2329.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
ईश्क में यार थोड़ा सब्र करो।
ईश्क में यार थोड़ा सब्र करो।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Please Help Me...
Please Help Me...
Srishty Bansal
झंझा झकोरती पेड़ों को, पर्वत निष्कम्प बने रहते।
झंझा झकोरती पेड़ों को, पर्वत निष्कम्प बने रहते।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
अधिकार और पशुवत विचार
अधिकार और पशुवत विचार
ओंकार मिश्र
बेबसी!
बेबसी!
कविता झा ‘गीत’
नारी तू नारायणी
नारी तू नारायणी
Dr.Pratibha Prakash
अनुभूत सत्य .....
अनुभूत सत्य .....
विमला महरिया मौज
कविता कि प्रेम
कविता कि प्रेम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
कवि की लेखनी
कवि की लेखनी
Shyam Sundar Subramanian
दादा का लगाया नींबू पेड़ / Musafir Baitha
दादा का लगाया नींबू पेड़ / Musafir Baitha
Dr MusafiR BaithA
जाहि विधि रहे राम ताहि विधि रहिए
जाहि विधि रहे राम ताहि विधि रहिए
Sanjay ' शून्य'
खत उसनें खोला भी नहीं
खत उसनें खोला भी नहीं
Sonu sugandh
एक मन
एक मन
Dr.Priya Soni Khare
सौ बार मरता है
सौ बार मरता है
sushil sarna
वोट का लालच
वोट का लालच
Raju Gajbhiye
तेरे दिल में मेरे लिए जगह खाली है क्या,
तेरे दिल में मेरे लिए जगह खाली है क्या,
Vishal babu (vishu)
🙅महा-राष्ट्रवाद🙅
🙅महा-राष्ट्रवाद🙅
*Author प्रणय प्रभात*
देते फल हैं सर्वदा , जग में संचित कर्म (कुंडलिया)
देते फल हैं सर्वदा , जग में संचित कर्म (कुंडलिया)
Ravi Prakash
बचपन का प्यार
बचपन का प्यार
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ख्वाहिशों की ना तमन्ना कर
ख्वाहिशों की ना तमन्ना कर
Harminder Kaur
"मन की संवेदनाएं: जीवन यात्रा का परिदृश्य"
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
किस बात का गुमान है यारो
किस बात का गुमान है यारो
Anil Mishra Prahari
अधूरी ख्वाहिशें
अधूरी ख्वाहिशें
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
Johnny Ahmed 'क़ैस'
अजब गजब
अजब गजब
Akash Yadav
"राबता" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बच्चे
बच्चे
Shivkumar Bilagrami
Loading...