Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Jul 2022 · 1 min read

💐💐धर्मो रक्षति रक्षित:💐💐

जनाः इत्थं शंका कुर्वन्ति यत् यः पापं कुर्वन्ति ते तु सुखं प्राप्नुवन्ति परं ये धर्मे चलन्ति ते दुःख प्राप्नुवन्ति।इत्थं शंका द्रौपदीं अपि अभवत्।युधिष्ठिर: द्रौपदीं वदति स्म यत् धर्मस्य पालनं तु मनुष्यमात्रस्य कर्तव्यं च मानवता च।यः सुखस्य कृते धर्मस्य पालनं कुर्वन्ति ते धर्मस्य तत्वं जानाति।पूर्वकर्मानुसारः सर्वे दुःख: च सुख: प्राप्नुवन्ति।यः धर्मस्य रक्षा करोति च धर्म एतस्य रक्षा करोति।-“धर्मो रक्षति रक्षित:” अर्थात् वस्तु परिस्थिति: च आदयो: सुख: न प्रत्युत् एतस्य सदुपयोगे सुख।

©®अभिषेक:पाराशर

Language: Sanskrit
569 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ऐसा है संविधान हमारा
ऐसा है संविधान हमारा
gurudeenverma198
मैं जिससे चाहा,
मैं जिससे चाहा,
Dr. Man Mohan Krishna
किसान
किसान
Bodhisatva kastooriya
प्रेम दिवानों  ❤️
प्रेम दिवानों ❤️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Sometimes you shut up not
Sometimes you shut up not
Vandana maurya
हे देश के जवानों !
हे देश के जवानों !
Buddha Prakash
नव वर्ष
नव वर्ष
RAKESH RAKESH
तो क्या हुआ
तो क्या हुआ
Faza Saaz
दवा दारू में उनने, जमकर भ्रष्टाचार किया
दवा दारू में उनने, जमकर भ्रष्टाचार किया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बाल मनोविज्ञान
बाल मनोविज्ञान
Pakhi Jain
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आप सभी को महाशिवरात्रि की बहुत-बहुत हार्दिक बधाई..
आर.एस. 'प्रीतम'
समुद्र से गहरे एहसास होते हैं
समुद्र से गहरे एहसास होते हैं
Harminder Kaur
मुक्तक
मुक्तक
Mahender Singh Manu
■ आज का सवाल
■ आज का सवाल
*Author प्रणय प्रभात*
असतो मा सद्गमय
असतो मा सद्गमय
Kanchan Khanna
देश गान
देश गान
Prakash Chandra
* एक कटोरी में पानी ले ,चिड़ियों को पिलवाओ जी【हिंदी गजल/गीतिक
* एक कटोरी में पानी ले ,चिड़ियों को पिलवाओ जी【हिंदी गजल/गीतिक
Ravi Prakash
उसकी दोस्ती में
उसकी दोस्ती में
Satish Srijan
तेरी तस्वीर को लफ़्ज़ों से संवारा मैंने ।
तेरी तस्वीर को लफ़्ज़ों से संवारा मैंने ।
Phool gufran
रिश्ते
रिश्ते
पूर्वार्थ
पुण्य आत्मा
पुण्य आत्मा
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
ऐसे काम काय करत हो
ऐसे काम काय करत हो
मानक लाल मनु
फितरत या स्वभाव
फितरत या स्वभाव
विजय कुमार अग्रवाल
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Unveiling the Unseen: Paranormal Activities and Scientific Investigations
Shyam Sundar Subramanian
शाश्वत, सत्य, सनातन राम
शाश्वत, सत्य, सनातन राम
श्रीकृष्ण शुक्ल
Price less मोहब्बत 💔
Price less मोहब्बत 💔
Rohit yadav
होली की आयी बहार।
होली की आयी बहार।
Anil Mishra Prahari
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/37.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...