Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Nov 2023 · 1 min read

🌙Chaand Aur Main✨

Ab Uss Chaand Ko Kya Yaad Aayegi Meri?
Uske Paas Toh Kayi Taare Hain.

Kaise Neend Aayegi Mujhe Bhi?
Mere Paas Toh Yaado Ke Bahaane Hain.

Ab Uss Chaand Ko Dekhne Ka Waqt Kaise Mile?
Mere Paas Ab Waqt Hi Kahan Hota Hai?!

Apne Sukoon Ko Kaise Bachaau Main?
Sukoon Ke Toh Dushman Ye Duniya Wale Hain.

✍️Srishty Bansal

149 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
छोड़ने वाले तो एक क्षण में छोड़ जाते हैं।
छोड़ने वाले तो एक क्षण में छोड़ जाते हैं।
लक्ष्मी सिंह
"यह कैसा नशा?"
Dr. Kishan tandon kranti
भूख
भूख
RAKESH RAKESH
डॉक्टर
डॉक्टर
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जब-जब सत्ताएँ बनी,
जब-जब सत्ताएँ बनी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
महामहिम राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू जी
महामहिम राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू जी
Seema gupta,Alwar
मेरे अंदर भी इक अमृता है
मेरे अंदर भी इक अमृता है
Shweta Soni
तितली संग बंधा मन का डोर
तितली संग बंधा मन का डोर
goutam shaw
सर्दी का उल्लास
सर्दी का उल्लास
Harish Chandra Pande
..........अकेला ही.......
..........अकेला ही.......
Naushaba Suriya
!! ये सच है कि !!
!! ये सच है कि !!
Chunnu Lal Gupta
बाल कविता: नदी
बाल कविता: नदी
Rajesh Kumar Arjun
चांद भी आज ख़ूब इतराया होगा यूं ख़ुद पर,
चांद भी आज ख़ूब इतराया होगा यूं ख़ुद पर,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
All your thoughts and
All your thoughts and
Dhriti Mishra
कोई जब पथ भूल जाएं
कोई जब पथ भूल जाएं
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मुकद्दर
मुकद्दर
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
रमेशराज के मौसमविशेष के बालगीत
रमेशराज के मौसमविशेष के बालगीत
कवि रमेशराज
कहने की कोई बात नहीं है
कहने की कोई बात नहीं है
Suryakant Dwivedi
#मिसाल-
#मिसाल-
*प्रणय प्रभात*
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
रेल यात्रा संस्मरण
रेल यात्रा संस्मरण
Prakash Chandra
तुमने - दीपक नीलपदम्
तुमने - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet kumar Shukla
रोज़ आकर वो मेरे ख़्वाबों में
रोज़ आकर वो मेरे ख़्वाबों में
Neelam Sharma
दीवाने खाटू धाम के चले हैं दिल थाम के
दीवाने खाटू धाम के चले हैं दिल थाम के
Khaimsingh Saini
आव्हान
आव्हान
Shyam Sundar Subramanian
कैसे हाल-हवाल बचाया मैंने
कैसे हाल-हवाल बचाया मैंने
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
Infatuation
Infatuation
Vedha Singh
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*वशिष्ठ (कुंडलिया)*
*वशिष्ठ (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
Loading...