Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Aug 2023 · 1 min read

■ शर्मनाक प्रपंच…

■ शर्मनाक प्रपंच…

1 Like · 112 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
कसूर उनका नहीं मेरा ही था,
कसूर उनका नहीं मेरा ही था,
Vishal babu (vishu)
चाय पार्टी
चाय पार्टी
Mukesh Kumar Sonkar
इस दुनिया में कोई भी मजबूर नहीं होता बस अपने आदतों से बाज़ आ
इस दुनिया में कोई भी मजबूर नहीं होता बस अपने आदतों से बाज़ आ
Rj Anand Prajapati
"वक़्त के साथ सब बदलते हैं।
*Author प्रणय प्रभात*
आंसूओं की नहीं
आंसूओं की नहीं
Dr fauzia Naseem shad
Safeguarding Against Cyber Threats: Vital Cybersecurity Measures for Preventing Data Theft and Contemplated Fraud
Safeguarding Against Cyber Threats: Vital Cybersecurity Measures for Preventing Data Theft and Contemplated Fraud
Shyam Sundar Subramanian
वो गली भी सूनी हों गयीं
वो गली भी सूनी हों गयीं
The_dk_poetry
Success rule
Success rule
Naresh Kumar Jangir
जहाँ खुदा है
जहाँ खुदा है
शेखर सिंह
हमारे प्यारे दादा दादी
हमारे प्यारे दादा दादी
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
*पत्रिका समीक्षा*
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
*फल*
*फल*
Dushyant Kumar
कितनी मासूम
कितनी मासूम
हिमांशु Kulshrestha
तेरा कंधे पे सर रखकर - दीपक नीलपदम्
तेरा कंधे पे सर रखकर - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
-- गुरु --
-- गुरु --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
ख़बर है आपकी ‘प्रीतम’ मुहब्बत है उसे तुमसे
ख़बर है आपकी ‘प्रीतम’ मुहब्बत है उसे तुमसे
आर.एस. 'प्रीतम'
रेतीले तपते गर्म रास्ते
रेतीले तपते गर्म रास्ते
Atul "Krishn"
🌹Prodigy Love-21🌹
🌹Prodigy Love-21🌹
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दहलीज़ पराई हो गई जब से बिदाई हो गई
दहलीज़ पराई हो गई जब से बिदाई हो गई
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
शाम सुहानी
शाम सुहानी
लक्ष्मी सिंह
प्रेम भाव रक्षित रखो,कोई भी हो तव धर्म।
प्रेम भाव रक्षित रखो,कोई भी हो तव धर्म।
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
मुझको शिकायत है
मुझको शिकायत है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
3267.*पूर्णिका*
3267.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
प्रियतमा
प्रियतमा
Paras Nath Jha
यहां कोई बेरोजगार नहीं हर कोई अपना पक्ष मजबूत करने में लगा ह
यहां कोई बेरोजगार नहीं हर कोई अपना पक्ष मजबूत करने में लगा ह
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
गोलियों की चल रही बौछार देखो।
गोलियों की चल रही बौछार देखो।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
देश अनेक
देश अनेक
Santosh Shrivastava
"तलबगार"
Dr. Kishan tandon kranti
बेटी उड़ान पर बाप ढलान पर👸👰🙋
बेटी उड़ान पर बाप ढलान पर👸👰🙋
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...