Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Nov 2016 · 1 min read

■[ मेरा नाकाम होना भी किसी के काम तो आया ]■

【 पुकारा तो नहीं लेकिन जुबां पर नाम तो आया ।।
सकूँ दिल को नहीं आया मगर आराम तो आया !! 】

【 किसी को मिल गया मौका बुलन्दी पर पहुंचने का ,!
मेरा नाकाम होना भी किसी के काम तो आया ,!! 】

[[[[■■■ नितिन शर्मा ■■■]]]]

Language: Hindi
305 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*
*"गौतम बुद्ध"*
Shashi kala vyas
मैं तुझमें तू मुझमें
मैं तुझमें तू मुझमें
Varun Singh Gautam
विचार, संस्कार और रस [ दो ]
विचार, संस्कार और रस [ दो ]
कवि रमेशराज
Daily Writing Challenge : New Beginning
Daily Writing Challenge : New Beginning
Mukesh Kumar Badgaiyan,
गाय
गाय
Vedha Singh
जो बेटी गर्भ में सोई...
जो बेटी गर्भ में सोई...
आकाश महेशपुरी
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
पर्वत दे जाते हैं
पर्वत दे जाते हैं
Himanshu Badoni (Dayanidhi)
पग-पग पर हैं वर्जनाएँ....
पग-पग पर हैं वर्जनाएँ....
डॉ.सीमा अग्रवाल
वह मुस्कुराते हुए पल मुस्कुराते
वह मुस्कुराते हुए पल मुस्कुराते
goutam shaw
Ek din ap ke pas har ek
Ek din ap ke pas har ek
Vandana maurya
सच और झूँठ
सच और झूँठ
विजय कुमार अग्रवाल
गुत्थियों का हल आसान नही .....
गुत्थियों का हल आसान नही .....
Rohit yadav
मृत्यु... (एक अटल सत्य )
मृत्यु... (एक अटल सत्य )
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
गांव
गांव
पंकज पाण्डेय सावर्ण्य
जग कल्याणी
जग कल्याणी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सब कुछ पा लेने की इच्छा ही तृष्णा है और कृपापात्र प्राणी ईश्
सब कुछ पा लेने की इच्छा ही तृष्णा है और कृपापात्र प्राणी ईश्
Sanjay ' शून्य'
🌸प्रेम कौतुक-193🌸
🌸प्रेम कौतुक-193🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दोय चिड़कली
दोय चिड़कली
Rajdeep Singh Inda
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Manisha Manjari
#संस्मरण
#संस्मरण
*Author प्रणय प्रभात*
"इस रोड के जैसे ही _
Rajesh vyas
★दाने बाली में ★
★दाने बाली में ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
कैसे लिखूं
कैसे लिखूं
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मेरे अंतस में ......
मेरे अंतस में ......
sushil sarna
*धनतेरस का त्यौहार*
*धनतेरस का त्यौहार*
Harminder Kaur
*गुरु जी की मक्खनबाजी (हास्य व्यंग्य)*
*गुरु जी की मक्खनबाजी (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
अगर जीवन में कभी किसी का कंधा बने हो , किसी की बाजू बने हो ,
अगर जीवन में कभी किसी का कंधा बने हो , किसी की बाजू बने हो ,
Seema Verma
हे प्रभू !
हे प्रभू !
Shivkumar Bilagrami
दिव्यांग वीर सिपाही की व्यथा
दिव्यांग वीर सिपाही की व्यथा
लक्ष्मी सिंह
Loading...