Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Dec 2023 · 1 min read

ভালো উপদেশ

সময়ের কাজ করো সময়ে
দেখবে কাজের বোঝা ঠিক কমছে।
কিন্তু যদি পরে করার জন্য রাখো ফেলে
তখন নতুন কাজের সাথে পুরোনো কাজ করতে হবে
কত চাপের ব্যাপার দ্যাখো ভেবে।

যে কাজ করতেই হবে
সে কাজ কেন ফেলে রাখবে?
বুদ্ধিমানেরা বর্তমানের কাজ শেষ করে
ভবিষ্যতের কাজ একটু একটু করে শেষ করে রাখে
এতে পরবর্তী সময়ে চাপ কমবে বলে।

— অর্ঘ্যদীপ চক্রবর্তী
২/১২/২০২৩

Language: Bengali
143 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
राजनीति के नशा में, मद्यपान की दशा में,
राजनीति के नशा में, मद्यपान की दशा में,
जगदीश शर्मा सहज
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ग़ज़ल की ये क़िताब,
तेरे बिछड़ने पर लिख रहा हूं ग़ज़ल की ये क़िताब,
Sahil Ahmad
ଅର୍ଦ୍ଧାଧିକ ଜୀବନର ଚିତ୍ର
ଅର୍ଦ୍ଧାଧିକ ଜୀବନର ଚିତ୍ର
Bidyadhar Mantry
माँ मुझे जवान कर तू बूढ़ी हो गयी....
माँ मुझे जवान कर तू बूढ़ी हो गयी....
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
अपूर्ण नींद और किसी भी मादक वस्तु का नशा दोनों ही शरीर को अन
अपूर्ण नींद और किसी भी मादक वस्तु का नशा दोनों ही शरीर को अन
Rj Anand Prajapati
हे ! गणपति महाराज
हे ! गणपति महाराज
Ram Krishan Rastogi
"सबक"
Dr. Kishan tandon kranti
खुद के करीब
खुद के करीब
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"*पिता*"
Radhakishan R. Mundhra
यादों का बसेरा है
यादों का बसेरा है
Shriyansh Gupta
हिज़्र
हिज़्र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
Hallucination Of This Night
Hallucination Of This Night
Manisha Manjari
चिड़िया
चिड़िया
Kanchan Khanna
■ बड़े काम की बात।।
■ बड़े काम की बात।।
*Author प्रणय प्रभात*
मैं घर आंगन की पंछी हूं
मैं घर आंगन की पंछी हूं
करन ''केसरा''
प्रेम और आदर
प्रेम और आदर
ओंकार मिश्र
कुछ बात कुछ ख्वाब रहने दे
कुछ बात कुछ ख्वाब रहने दे
डॉ. दीपक मेवाती
कैसे?
कैसे?
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
दर्द और जिंदगी
दर्द और जिंदगी
Rakesh Rastogi
*षडानन (बाल कविता)*
*षडानन (बाल कविता)*
Ravi Prakash
2549.पूर्णिका
2549.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
हे प्रभू !
हे प्रभू !
Shivkumar Bilagrami
नारी पुरुष
नारी पुरुष
Neeraj Agarwal
हम हमारे हिस्से का कम लेकर आए
हम हमारे हिस्से का कम लेकर आए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
वीर-जवान
वीर-जवान
लक्ष्मी सिंह
*परवरिश की उड़ान* ( 25 of 25 )
*परवरिश की उड़ान* ( 25 of 25 )
Kshma Urmila
कामयाबी का नशा
कामयाबी का नशा
SHAMA PARVEEN
सुविचार
सुविचार
Dr MusafiR BaithA
राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳
राज नहीं राजनीति हो अपना 🇮🇳
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अक्सर औरत को यह खिताब दिया जाता है
अक्सर औरत को यह खिताब दिया जाता है
Harminder Kaur
Loading...