Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Mar 2017 · 1 min read

होली

होली आई
खुशियाँ खूब लाई
मन को भाई।

गुलाल उड़े
नफरत मिटाये
गले लगाये।

होली की रात
होलिका जली आग
सत्य की जीत ।

कहीं ठंडाई
कहीं जमे हैं भांग
मस्ती की बात ।

पुआ व पुड़ी
दहीबड़ा, पकौड़ी
रंग जमाई।

बाजे हैं ढोल
संग -संग मजीरा
गाये है फाग।

होली के रंग
भाये पिया के संग
भरे उमंग ।

भींजे चुनर
बरस रहा रंग
बहके मन।

झूमती रति
देख-देख मदन
मनमगन।

खेले हैं होली
संग में हमजोली
होली रे होली ।

Language: Hindi
596 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ग़ज़ल - रहते हो
ग़ज़ल - रहते हो
Mahendra Narayan
तुमसे ही से दिन निकलता है मेरा,
तुमसे ही से दिन निकलता है मेरा,
Er. Sanjay Shrivastava
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"आसानी से"
Dr. Kishan tandon kranti
दीवारों की चुप्पी में
दीवारों की चुप्पी में
Sangeeta Beniwal
अहसासे ग़मे हिज्र बढ़ाने के लिए आ
अहसासे ग़मे हिज्र बढ़ाने के लिए आ
Sarfaraz Ahmed Aasee
बाबा साहेब अम्बेडकर / मुसाफ़िर बैठा
बाबा साहेब अम्बेडकर / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
To be Invincible,
To be Invincible,
Dhriti Mishra
पूजा नहीं, सम्मान दें!
पूजा नहीं, सम्मान दें!
Shekhar Chandra Mitra
नित नए संघर्ष करो (मजदूर दिवस)
नित नए संघर्ष करो (मजदूर दिवस)
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
.......*तु खुदकी खोज में निकल* ......
.......*तु खुदकी खोज में निकल* ......
Naushaba Suriya
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Rekha Drolia
आत्मीय मुलाकात -
आत्मीय मुलाकात -
Seema gupta,Alwar
कविता
कविता
Rambali Mishra
*मारीच (कुंडलिया)*
*मारीच (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
साल गिरह की मुबारक बाद तो सब दे रहे है
साल गिरह की मुबारक बाद तो सब दे रहे है
shabina. Naaz
प्रेम.....
प्रेम.....
हिमांशु Kulshrestha
नहीं तेरे साथ में कोई तो क्या हुआ
नहीं तेरे साथ में कोई तो क्या हुआ
gurudeenverma198
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
Ahtesham Ahmad
तेवरी का सौन्दर्य-बोध +रमेशराज
तेवरी का सौन्दर्य-बोध +रमेशराज
कवि रमेशराज
हम
हम
Ankit Kumar
थकावट दूर करने की सबसे बड़ी दवा चेहरे पर खिली मुस्कुराहट है।
थकावट दूर करने की सबसे बड़ी दवा चेहरे पर खिली मुस्कुराहट है।
Rj Anand Prajapati
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-151से चुने हुए श्रेष्ठ दोहे (लुगया)
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-151से चुने हुए श्रेष्ठ दोहे (लुगया)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Anxiety fucking sucks.
Anxiety fucking sucks.
पूर्वार्थ
💐अज्ञात के प्रति-87💐
💐अज्ञात के प्रति-87💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सब तेरा है
सब तेरा है
Swami Ganganiya
कोई ज्यादा पीड़ित है तो कोई थोड़ा
कोई ज्यादा पीड़ित है तो कोई थोड़ा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
क्या हुआ , क्या हो रहा है और क्या होगा
क्या हुआ , क्या हो रहा है और क्या होगा
कृष्ण मलिक अम्बाला
2896.*पूर्णिका*
2896.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हर कोई जिन्दगी में अब्बल होने की होड़ में भाग रहा है
हर कोई जिन्दगी में अब्बल होने की होड़ में भाग रहा है
कवि दीपक बवेजा
Loading...