Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Apr 2023 · 1 min read

हे कलम

हे कलम तुम जब भी लिखना
इक अद्भुत बात लिखना
चमत्कार कुछ नया करके
एक अजब इतिहास लिखना।

दुखी हॄदय का क्रंदन लिखना
किसी पीड़ित का बंधन लिखना
न केवल सजी हुई रहना
काम तुम्हारा निरंतर लिखना।

तलवार से तीक्ष्ण धार हो
डूबते नाविक की पतवार हो
जन-जन का भाग्य बदल देना
सदैव सत्य की राह पर चलना

युगों युगों से निरंतर चलती हो
अवलोकित करती कालांतर हो
सभ्यताओं को वर्णित किया
अवतार फिर इक नया लिया

झूठ,कपट,के संग न बहना
सृजन सदैव निरन्तर करना
नतमस्तक हो जन तुम्हारे आगे
ऐसा कर्म सतत ही करना

इक कर्णप्रिय साज बन जाना
मूक कंठ की आवाज़ बन जाना
सलिल सी सदा अविरल बहना
अन्याय,झूठ कदापि न सहना

रक्त में जोश हरदम भरती
ज्वाला,नई सबमे जगाती
उन्नति की परिभाषा लिखना
सुनहरे कल की आशा लिखना

ऊँच,नीच का भेदभाव भुला
प्रेम,सद्भाव,सत्य ही दिखाना
निष्ठा से प्रेरित सुंदरतम सी
छवि मनस पटल अंकित करना।।

✍️”कविता चौहान”
स्वरचित एवं मौलिक

Language: Hindi
212 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
व्यंग्य कविता-
व्यंग्य कविता- "गणतंत्र समारोह।" आनंद शर्मा
Anand Sharma
अ'ज़ीम शायर उबैदुल्ला अलीम
अ'ज़ीम शायर उबैदुल्ला अलीम
Shyam Sundar Subramanian
दिवाली व होली में वार्तालाप
दिवाली व होली में वार्तालाप
Ram Krishan Rastogi
दिमाग नहीं बस तकल्लुफ चाहिए
दिमाग नहीं बस तकल्लुफ चाहिए
Pankaj Sen
रूठकर के खुदसे
रूठकर के खुदसे
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
वक्त
वक्त
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
राम आधार हैं
राम आधार हैं
Mamta Rani
रंगोत्सव की हार्दिक बधाई
रंगोत्सव की हार्दिक बधाई
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
रंगीला बचपन
रंगीला बचपन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
अच्छा कार्य करने वाला
अच्छा कार्य करने वाला
नेताम आर सी
कुछ अलग ही प्रेम था,हम दोनों के बीच में
कुछ अलग ही प्रेम था,हम दोनों के बीच में
Dr Manju Saini
कुछ पल अपने लिए
कुछ पल अपने लिए
Mukesh Kumar Sonkar
"लक्ष्य"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
Mukkadar bhi kya chij h,
Mukkadar bhi kya chij h,
Sakshi Tripathi
"आइडिया"
Dr. Kishan tandon kranti
स्वतंत्रता की नारी
स्वतंत्रता की नारी
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
लाल रंग मेरे खून का,तेरे वंश में बहता है
लाल रंग मेरे खून का,तेरे वंश में बहता है
Pramila sultan
जमाना जीतने की ख्वाइश नहीं है मेरी!
जमाना जीतने की ख्वाइश नहीं है मेरी!
Vishal babu (vishu)
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
कवि रमेशराज
बागों में जीवन खड़ा, ले हाथों में फूल।
बागों में जीवन खड़ा, ले हाथों में फूल।
Suryakant Dwivedi
जब मैं मर जाऊं तो कफ़न के जगह किताबों में लपेट देना
जब मैं मर जाऊं तो कफ़न के जगह किताबों में लपेट देना
Keshav kishor Kumar
ख़ामोशी है चेहरे पर लेकिन
ख़ामोशी है चेहरे पर लेकिन
पूर्वार्थ
मैंने जिसे लिखा था बड़ा देखभाल के
मैंने जिसे लिखा था बड़ा देखभाल के
Shweta Soni
मिल ही जाते हैं
मिल ही जाते हैं
Surinder blackpen
नन्ही परी
नन्ही परी
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
विधा - गीत
विधा - गीत
Harminder Kaur
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
Ravi Prakash
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
Paras Nath Jha
23/29.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/29.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जीयो
जीयो
Sanjay ' शून्य'
Loading...