Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jan 2024 · 1 min read

हर क्षण का

उद्देश्य रहित जीवन में
हर क्षण का मूल्य है।
व्यर्थ समय जीवन में
न नष्ट किया जाए ।।

प्राप्त हो तुमको फिर
लक्ष्य भी तुम्हारा ।
प्रयास सफलता का गर
दिन रात किया जाए ।।

ईश्वर का हर परिस्थिति में
धन्यवाद किया जाए ।
जिस रूप में मिले जीवन
स्वीकार किया जाए ।।

ईश्वर को पाने का हृदय से
प्रयास किया जाए ।
मानवता के भाव का स्वयं में
संचार किया जाए ।।

इतिहास के पन्नों का पुनः
अध्ययन किया जाए ।
जिन्हें विस्मृत किया है
उन्हें स्मरण किया जाए ।।
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
4 Likes · 85 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
कल शाम में बारिश हुई,थोड़ी ताप में कमी आई
कल शाम में बारिश हुई,थोड़ी ताप में कमी आई
Keshav kishor Kumar
इंसान हूं मैं आखिर ...
इंसान हूं मैं आखिर ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
बदलाव
बदलाव
Shyam Sundar Subramanian
2719.*पूर्णिका*
2719.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Harmony's Messenger: Sauhard Shiromani Sant Shri Saurabh
Harmony's Messenger: Sauhard Shiromani Sant Shri Saurabh
World News
बीमार घर/ (नवगीत)
बीमार घर/ (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
शुभम दुष्यंत राणा Shubham Dushyant Rana जिनका जीवन समर्पित है जनसेवा के लिए आखिर कौन है शुभम दुष्यंत राणा Shubham Dushyant Rana ?
शुभम दुष्यंत राणा Shubham Dushyant Rana जिनका जीवन समर्पित है जनसेवा के लिए आखिर कौन है शुभम दुष्यंत राणा Shubham Dushyant Rana ?
Bramhastra sahityapedia
*छिपी रहती सरल चेहरों के, पीछे होशियारी है (हिंदी गजल)*
*छिपी रहती सरल चेहरों के, पीछे होशियारी है (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
नारी के बिना जीवन, में प्यार नहीं होगा।
नारी के बिना जीवन, में प्यार नहीं होगा।
सत्य कुमार प्रेमी
■ लघु व्यंग्य :-
■ लघु व्यंग्य :-
*Author प्रणय प्रभात*
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
ruby kumari
मार्गदर्शन होना भाग्य की बात है
मार्गदर्शन होना भाग्य की बात है
Harminder Kaur
" मेरा रत्न "
Dr Meenu Poonia
मालपुआ
मालपुआ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
प्रेम पर शब्दाडंबर लेखकों का / MUSAFIR BAITHA
प्रेम पर शब्दाडंबर लेखकों का / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
कोरोना और पानी
कोरोना और पानी
Suryakant Dwivedi
लेकिन क्यों ?
लेकिन क्यों ?
Dinesh Kumar Gangwar
आदतें
आदतें
Sanjay ' शून्य'
भरोसा
भरोसा
Paras Nath Jha
* मिल बढ़ो आगे *
* मिल बढ़ो आगे *
surenderpal vaidya
सारी तल्ख़ियां गर हम ही से हों तो, बात  ही क्या है,
सारी तल्ख़ियां गर हम ही से हों तो, बात ही क्या है,
Shreedhar
उठ जाग मेरे मानस
उठ जाग मेरे मानस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
शिकवा गिला शिकायतें
शिकवा गिला शिकायतें
Dr fauzia Naseem shad
मोहमाया के जंजाल में फंसकर रह गया है इंसान
मोहमाया के जंजाल में फंसकर रह गया है इंसान
Rekha khichi
प्यार
प्यार
Kanchan Khanna
रैन  स्वप्न  की  उर्वशी, मौन  प्रणय की प्यास ।
रैन स्वप्न की उर्वशी, मौन प्रणय की प्यास ।
sushil sarna
"अभिव्यक्ति"
Dr. Kishan tandon kranti
सभी लालच लिए हँसते बुराई पर रुलाती है
सभी लालच लिए हँसते बुराई पर रुलाती है
आर.एस. 'प्रीतम'
तैराक हम गहरे पानी के,
तैराक हम गहरे पानी के,
Aruna Dogra Sharma
मकर संक्रांति पर्व
मकर संक्रांति पर्व
Seema gupta,Alwar
Loading...