Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Sep 2022 · 1 min read

हम हक़ीक़त को

ख़्वाब रख कर तुम्हारा आंखों में ।
हम हक़ीक़त को भूल जाते हैं ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
10 Likes · 207 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
पापा के परी
पापा के परी
जय लगन कुमार हैप्पी
3662.💐 *पूर्णिका* 💐
3662.💐 *पूर्णिका* 💐
Dr.Khedu Bharti
चाय और राय,
चाय और राय,
शेखर सिंह
रो रो कर बोला एक पेड़
रो रो कर बोला एक पेड़
Buddha Prakash
অরাজক সহিংসতা
অরাজক সহিংসতা
Otteri Selvakumar
सदद्विचार
सदद्विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*पुस्तक समीक्षा*
*पुस्तक समीक्षा*
Ravi Prakash
यूनिवर्सिटी नहीं केवल वहां का माहौल बड़ा है।
यूनिवर्सिटी नहीं केवल वहां का माहौल बड़ा है।
Rj Anand Prajapati
*आओ मिलकर नया साल मनाएं*
*आओ मिलकर नया साल मनाएं*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
हक़ीक़त ने
हक़ीक़त ने
Dr fauzia Naseem shad
आपकी आहुति और देशहित
आपकी आहुति और देशहित
Mahender Singh
गर्मी आई
गर्मी आई
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ग़ज़ल सगीर
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
Jo Apna Nahin 💔💔
Jo Apna Nahin 💔💔
Yash mehra
समझदारी ने दिया धोखा*
समझदारी ने दिया धोखा*
Rajni kapoor
🙅आज का दोहा🙅
🙅आज का दोहा🙅
*प्रणय प्रभात*
The unknown road.
The unknown road.
Manisha Manjari
ग़ज़ल _अरमान ये मेरा है , खिदमत में बढ़ा जाये!
ग़ज़ल _अरमान ये मेरा है , खिदमत में बढ़ा जाये!
Neelofar Khan
कृपया सावधान रहें !
कृपया सावधान रहें !
Anand Kumar
माँ दे - दे वरदान ।
माँ दे - दे वरदान ।
Anil Mishra Prahari
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
श्रद्धांजलि
श्रद्धांजलि
नेताम आर सी
विश्वेश्वर महादेव
विश्वेश्वर महादेव
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
आएंगे तो मोदी ही
आएंगे तो मोदी ही
Sanjay ' शून्य'
"जुगाड़ तकनीकी"
Dr. Kishan tandon kranti
यह रंगीन मतलबी दुनियां
यह रंगीन मतलबी दुनियां
कार्तिक नितिन शर्मा
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
किसकी कश्ती किसका किनारा
किसकी कश्ती किसका किनारा
डॉ० रोहित कौशिक
यह जीवन भूल भूलैया है
यह जीवन भूल भूलैया है
VINOD CHAUHAN
यह अपना धर्म हम, कभी नहीं भूलें
यह अपना धर्म हम, कभी नहीं भूलें
gurudeenverma198
Loading...