Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Nov 2022 · 1 min read

*हटरी (बाल कविता)*

हटरी (बाल कविता)
■■■■■■■■■■■
यह देखो यह प्यारी हटरी
रंग-बिरंगी न्यारी हटरी

मिट्टी से है इसे बनाया
नाजुक इसका रूप कहाया

इस पर एक दीप है जलता
उजियारा हटरी में पलता

हटरी कुछ चाँदी-सोने की
रूपहली जादू- टोने की

हटरी नई साल हर लाते
दीवाली पर इसे सजाते

मिट्टी की हटरी बतियाती
अपने मन की बात सुनाती

आओ चलो घूम कर आएँ
धनतेरस पर हटरी लाएँ
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””
रचयिता : रवि प्रकाश ,बाजार सर्राफा
रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

1 Like · 146 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
If you have believe in you and faith in the divine power .yo
If you have believe in you and faith in the divine power .yo
Nupur Pathak
- एक दिन उनको मेरा प्यार जरूर याद आएगा -
- एक दिन उनको मेरा प्यार जरूर याद आएगा -
bharat gehlot
"इतिहास गवाह है"
Dr. Kishan tandon kranti
अतीत - “टाइम मशीन
अतीत - “टाइम मशीन"
Atul "Krishn"
■ विनम्र अपील...
■ विनम्र अपील...
*Author प्रणय प्रभात*
कोई आपसे तब तक ईर्ष्या नहीं कर सकता है जब तक वो आपसे परिचित
कोई आपसे तब तक ईर्ष्या नहीं कर सकता है जब तक वो आपसे परिचित
Rj Anand Prajapati
तुम लौट आओ ना
तुम लौट आओ ना
Anju ( Ojhal )
नित तेरी पूजा करता मैं,
नित तेरी पूजा करता मैं,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
व्यक्ति और विचार में यदि चुनना पड़े तो विचार चुनिए। पर यदि व
व्यक्ति और विचार में यदि चुनना पड़े तो विचार चुनिए। पर यदि व
Sanjay ' शून्य'
रंग हरा सावन का
रंग हरा सावन का
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
समस्त जगतकी बहर लहर पर,
समस्त जगतकी बहर लहर पर,
Neelam Sharma
"सुबह की किरणें "
Yogendra Chaturwedi
आँगन की दीवारों से ( समीक्षा )
आँगन की दीवारों से ( समीक्षा )
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
💐प्रेम कौतुक-552💐
💐प्रेम कौतुक-552💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नाम इंसानियत का
नाम इंसानियत का
Dr fauzia Naseem shad
कोई कैसे ही कह दे की आजा़द हूं मैं,
कोई कैसे ही कह दे की आजा़द हूं मैं,
manjula chauhan
प्रश्न  शूल आहत करें,
प्रश्न शूल आहत करें,
sushil sarna
2979.*पूर्णिका*
2979.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Keep yourself secret
Keep yourself secret
Sakshi Tripathi
प्यारी-प्यारी सी पुस्तक
प्यारी-प्यारी सी पुस्तक
SHAMA PARVEEN
निज धर्म सदा चलते रहना
निज धर्म सदा चलते रहना
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
श्याम अपना मान तुझे,
श्याम अपना मान तुझे,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
*उदघोष*
*उदघोष*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Price less मोहब्बत 💔
Price less मोहब्बत 💔
Rohit yadav
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
*दीपक सा मन* ( 22 of 25 )
*दीपक सा मन* ( 22 of 25 )
Kshma Urmila
शिव ही बनाते हैं मधुमय जीवन
शिव ही बनाते हैं मधुमय जीवन
कवि रमेशराज
वाह ! डायबिटीज हो गई (हास्य व्यंग्य)
वाह ! डायबिटीज हो गई (हास्य व्यंग्य)
Ravi Prakash
The only difference between dreams and reality is perfection
The only difference between dreams and reality is perfection
सिद्धार्थ गोरखपुरी
Loading...