Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 May 2023 · 1 min read

” सौग़ात ” – गीत

निरन्तर रहता है गतिमान,
समय का चक्र, चपल, चालाक।
भ्रमित होँ ज्ञानीजन भी क्यों न,
महल होते पल भर मेँ ख़ाक।।

समझ लो गरिमा, “हम” की मित्र,
दिखा दो “मैँ-तुम” को औक़ात।
चलो झँझावातोँ से दूर,
कभी तो ले, हाथों मेँ हाथ।।

प्रेम है सदियों से सिरमौर,
मिले जब वक़्त, करो कुछ बात।
वक़्त के सम्मुख सब कुछ गौण,
किन्तु कब किसके रहता साथ।।

कहे प्रेमी आतुर, ले आस,
दिला अपनेपन का अहसास।
प्रिये, मत करो और अब तँग,
करो कुछ हास और परिहास।।

भोर कल की हो सुखद, सहिष्णु,
ठहर पाया भी कब है आज।
निराशा भी जाएगी बीत,
साथ है, “आशा” की सौग़ात..!

//———-//————//————//

Language: Hindi
1 Like · 1 Comment · 174 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
View all
You may also like:
मुहब्बत में उड़ी थी जो ख़ाक की खुशबू,
मुहब्बत में उड़ी थी जो ख़ाक की खुशबू,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हिरनी जैसी जब चले ,
हिरनी जैसी जब चले ,
sushil sarna
प्रकृति ने अंँधेरी रात में चांँद की आगोश में अपने मन की सुंद
प्रकृति ने अंँधेरी रात में चांँद की आगोश में अपने मन की सुंद
Neerja Sharma
* कष्ट में *
* कष्ट में *
surenderpal vaidya
अर्ज किया है जनाब
अर्ज किया है जनाब
शेखर सिंह
बड़ी मुद्दतों के बाद
बड़ी मुद्दतों के बाद
VINOD CHAUHAN
3540.💐 *पूर्णिका* 💐
3540.💐 *पूर्णिका* 💐
Dr.Khedu Bharti
रहता हूँ  ग़ाफ़िल, मख़लूक़ ए ख़ुदा से वफ़ा चाहता हूँ
रहता हूँ ग़ाफ़िल, मख़लूक़ ए ख़ुदा से वफ़ा चाहता हूँ
Mohd Anas
नाम उल्फत में तेरे जिंदगी कर जाएंगे।
नाम उल्फत में तेरे जिंदगी कर जाएंगे।
Phool gufran
हर एकपल तेरी दया से माँ
हर एकपल तेरी दया से माँ
Basant Bhagawan Roy
रम्भा की ‘मी टू’
रम्भा की ‘मी टू’
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ग़ज़ल/नज़्म - मैं बस काश! काश! करते-करते रह गया
ग़ज़ल/नज़्म - मैं बस काश! काश! करते-करते रह गया
अनिल कुमार
लफ्जों के सिवा।
लफ्जों के सिवा।
Taj Mohammad
3-फ़क़त है सियासत हक़ीक़त नहीं है
3-फ़क़त है सियासत हक़ीक़त नहीं है
Ajay Kumar Vimal
..
..
*प्रणय प्रभात*
आया तीजो का त्यौहार
आया तीजो का त्यौहार
Ram Krishan Rastogi
Ishq ke panne par naam tera likh dia,
Ishq ke panne par naam tera likh dia,
Chinkey Jain
प्यार दीवाना ही नहीं होता
प्यार दीवाना ही नहीं होता
Dr Archana Gupta
कोई पैग़ाम आएगा (नई ग़ज़ल) Vinit Singh Shayar
कोई पैग़ाम आएगा (नई ग़ज़ल) Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
आँखों से गिराकर नहीं आँसू तुम
आँखों से गिराकर नहीं आँसू तुम
gurudeenverma198
मिली जिस काल आजादी, हुआ दिल चाक भारत का।
मिली जिस काल आजादी, हुआ दिल चाक भारत का।
डॉ.सीमा अग्रवाल
*सास और बहू के बदलते तेवर (हास्य व्यंग्य)*
*सास और बहू के बदलते तेवर (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
होता नहीं कम काम
होता नहीं कम काम
जगदीश लववंशी
Activities for Environmental Protection
Activities for Environmental Protection
अमित कुमार
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सफर 👣जिंदगी का
सफर 👣जिंदगी का
डॉ० रोहित कौशिक
Ghazal
Ghazal
shahab uddin shah kannauji
रंग बिरंगी दुनिया में हम सभी जीते हैं।
रंग बिरंगी दुनिया में हम सभी जीते हैं।
Neeraj Agarwal
महाकाल का आंगन
महाकाल का आंगन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💫समय की वेदना😥
💫समय की वेदना😥
SPK Sachin Lodhi
Loading...