Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Jul 2018 · 1 min read

सायली छंद

उन्मुक्त
आकाश में ,
रिक्त कुछ आकांक्षाएं ।
भटक रहीं
इच्छाएं ।

…. विवेक दुबे”निश्चल”@…

Language: Hindi
300 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अच्छाई बनाम बुराई :- [ अच्छाई का फल ]
अच्छाई बनाम बुराई :- [ अच्छाई का फल ]
Surya Barman
ग़म भूल जाइए,होली में अबकी बार
ग़म भूल जाइए,होली में अबकी बार
Shweta Soni
???
???
*प्रणय प्रभात*
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
थोड़ा दिन और रुका जाता.......
Keshav kishor Kumar
*भक्ति के दोहे*
*भक्ति के दोहे*
Ravi Prakash
कभी चाँद को देखा तो कभी आपको देखा
कभी चाँद को देखा तो कभी आपको देखा
VINOD CHAUHAN
सबने सलाह दी यही मुॅंह बंद रखो तुम।
सबने सलाह दी यही मुॅंह बंद रखो तुम।
सत्य कुमार प्रेमी
*
*"ममता"* पार्ट-4
Radhakishan R. Mundhra
मोबाइल
मोबाइल
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
दोस्तों
दोस्तों
Sunil Maheshwari
यह  सिक्वेल बनाने का ,
यह सिक्वेल बनाने का ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
बूढ़ी माँ .....
बूढ़ी माँ .....
sushil sarna
सिंदूरी भावों के दीप
सिंदूरी भावों के दीप
Rashmi Sanjay
पाप का भागी
पाप का भागी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जीवन में दिन चार मिलें है,
जीवन में दिन चार मिलें है,
Satish Srijan
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
खूब ठहाके लगा के बन्दे !
Akash Yadav
नए दौर का भारत
नए दौर का भारत
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
अफसाने
अफसाने
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
प्रेम मोहब्बत इश्क के नाते जग में देखा है बहुतेरे,
प्रेम मोहब्बत इश्क के नाते जग में देखा है बहुतेरे,
Anamika Tiwari 'annpurna '
"अमरूद की महिमा..."
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कब तक कौन रहेगा साथी
कब तक कौन रहेगा साथी
Ramswaroop Dinkar
सत्य की खोज
सत्य की खोज
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
आसान नहीं होता घर से होस्टल जाना
आसान नहीं होता घर से होस्टल जाना
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
बुंदेली दोहा- पलका (पलंग)
बुंदेली दोहा- पलका (पलंग)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ज़रूरत के तकाज़ो
ज़रूरत के तकाज़ो
Dr fauzia Naseem shad
सम्यक योग की साधना दुरुस्त करे सब भोग,
सम्यक योग की साधना दुरुस्त करे सब भोग,
Mahender Singh
समस्या का समाधान
समस्या का समाधान
Paras Nath Jha
उलझते रिश्तो में मत उलझिये
उलझते रिश्तो में मत उलझिये
Harminder Kaur
रामधारी सिंह दिवाकर की कहानी 'गाँठ' का मंचन
रामधारी सिंह दिवाकर की कहानी 'गाँठ' का मंचन
आनंद प्रवीण
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Rekha Drolia
Loading...