Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 May 2022 · 1 min read

सागर

🙏 मेरे सतगुरु श्री बाबा लाल दयाल जी महाराज की जय 🌹

कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं भुजगेन्द्रहारम्
सदा वसंतम हृदयारविंदे
भवम भवानी सहितं नमामि ||

कर्पूरगौरं-कर्पूर के समान गौर वर्ण वाले।
करुणावतारं- करुणा के जो साक्षात् अवतार हैं।
संसारसारं- समस्त सृष्टि के जो सार हैं।
भुजगेंद्रहारम्- इसका अर्थ है जो सांप को हार के रूप में धारण करते हैं।
सदा वसतं हृदयाविन्दे भवंभावनी सहितं नमामि- इसका अर्थ है कि जो शिव, पार्वती के साथ सदैव मेरे हृदय में निवास करते हैं,उनको मेरा नमन है🙏

✒️📙जीवन की पाठशाला 📖🖋️

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की हम जिनके झूठ का मान रख लेते हैं वो समझते हैं कि हमें बेवक़ूफ़ बना दिया …,

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की सतगुरु- परमात्मा का प्यार एक सागर की तरह है,हम इसकी शुरूआत देख सकते हैं परंतु अंत नहीं …,

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की दो बातों पर नियंत्रण होना जरूरी है-आमदनी पर्याप्त ना हो तो खर्चों पर और जानकारी प्रर्याप्त न हो तो शब्दों पर…,

आखिर में एक ही बात समझ आई की मेहनत का मार्ग सरल तो नहीं होता पर हां सफलता मिलने के बाद जिंदगी को सरल जरूर बना देता है …!

बाकी कल ,खतरा अभी टला नहीं है ,दो गज की दूरी और मास्क 😷 है जरूरी ….सावधान रहिये -सतर्क रहिये -निस्वार्थ नेक कर्म कीजिये -अपने इष्ट -सतगुरु को अपने आप को समर्पित कर दीजिये ….!
🙏सुप्रभात 🌹
आपका दिन शुभ हो
स्वरचित स्वमौलिक
विकास शर्मा'”शिवाया”
🔱जयपुर -राजस्थान 🔱

Language: Hindi
2 Likes · 1 Comment · 875 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सत्साहित्य सुरुचि उपजाता, दूर भगाता है अज्ञान।
सत्साहित्य सुरुचि उपजाता, दूर भगाता है अज्ञान।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
बस तुम
बस तुम
Rashmi Ranjan
जन मन में हो उत्कट चाह
जन मन में हो उत्कट चाह
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मुस्कानों की बागानों में
मुस्कानों की बागानों में
sushil sarna
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
दरदू
दरदू
Neeraj Agarwal
उस दिन
उस दिन
Shweta Soni
मैं अशुद्ध बोलता हूं
मैं अशुद्ध बोलता हूं
Keshav kishor Kumar
New Love
New Love
Vedha Singh
आने वाला कल
आने वाला कल
Dr. Upasana Pandey
अद्भुत प्रेम
अद्भुत प्रेम
krishna waghmare , कवि,लेखक,पेंटर
नजरअंदाज करने के
नजरअंदाज करने के
Dr Manju Saini
सताया ना कर ये जिंदगी
सताया ना कर ये जिंदगी
Rituraj shivem verma
धड़कूँगा फिर तो पत्थर में भी शायद
धड़कूँगा फिर तो पत्थर में भी शायद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
यही जीवन है ।
यही जीवन है ।
Rohit yadav
🌹 *गुरु चरणों की धूल* 🌹
🌹 *गुरु चरणों की धूल* 🌹
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
पापा
पापा
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
कहा किसी ने
कहा किसी ने
Surinder blackpen
Friend
Friend
Saraswati Bajpai
* कुछ पता चलता नहीं *
* कुछ पता चलता नहीं *
surenderpal vaidya
सर्द हवाओं का मौसम
सर्द हवाओं का मौसम
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
.
.
*प्रणय प्रभात*
*तितली (बाल कविता)*
*तितली (बाल कविता)*
Ravi Prakash
योग महा विज्ञान है
योग महा विज्ञान है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
कविता
कविता
Shiva Awasthi
जबसे उनको रकीब माना है।
जबसे उनको रकीब माना है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
"रिश्ता" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
...........
...........
शेखर सिंह
" भँवर "
Dr. Kishan tandon kranti
3097.*पूर्णिका*
3097.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...