Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2023 · 1 min read

सागर प्रियतम प्रेम भरा है हमको मिलने जाना है।

सागर प्रियतम प्रेम भरा है हमको मिलने जाना है।
प्रखर देखिए नदियों का भी सपना एक बहाना है।
क्षमता खातिर पूजा जिसको खारे सागर डूब मरी।
पनघट और पोखरों से ही रिश्ता उचित बनाना है।।

सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर ‘

148 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
View all
You may also like:
एक समझदार व्यक्ति द्वारा रिश्तों के निर्वहन में अचानक शिथिल
एक समझदार व्यक्ति द्वारा रिश्तों के निर्वहन में अचानक शिथिल
Paras Nath Jha
अपने साथ तो सब अपना है
अपने साथ तो सब अपना है
Dheerja Sharma
बेजुबान तस्वीर
बेजुबान तस्वीर
Neelam Sharma
ग़ज़ल
ग़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
आप और हम जीवन के सच............. हमारी सोच
आप और हम जीवन के सच............. हमारी सोच
Neeraj Agarwal
■ आज की बात
■ आज की बात
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-425💐
💐प्रेम कौतुक-425💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कौआ और बन्दर
कौआ और बन्दर
SHAMA PARVEEN
खुलेआम जो देश को लूटते हैं।
खुलेआम जो देश को लूटते हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
हिंदी है पहचान
हिंदी है पहचान
Seema gupta,Alwar
वो एक विभा..
वो एक विभा..
Parvat Singh Rajput
दिल का रोग
दिल का रोग
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
मेरे ख्याल से जीवन से ऊब जाना भी अच्छी बात है,
मेरे ख्याल से जीवन से ऊब जाना भी अच्छी बात है,
पूर्वार्थ
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
Johnny Ahmed 'क़ैस'
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
खुद से उम्मीद लगाओगे तो खुद को निखार पाओगे
खुद से उम्मीद लगाओगे तो खुद को निखार पाओगे
ruby kumari
सवर्ण और भगवा गोदी न्यूज चैनलों की तरह ही सवर्ण गोदी साहित्य
सवर्ण और भगवा गोदी न्यूज चैनलों की तरह ही सवर्ण गोदी साहित्य
Dr MusafiR BaithA
मेरा लड्डू गोपाल
मेरा लड्डू गोपाल
MEENU
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
छाऊ मे सभी को खड़ा होना है
छाऊ मे सभी को खड़ा होना है
शेखर सिंह
आसान नहीं होता...
आसान नहीं होता...
Dr. Seema Varma
3290.*पूर्णिका*
3290.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जब आए शरण विभीषण तो प्रभु ने लंका का राज दिया।
जब आए शरण विभीषण तो प्रभु ने लंका का राज दिया।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
*खुश रहना है तो जिंदगी के फैसले अपनी परिस्थिति को देखकर खुद
*खुश रहना है तो जिंदगी के फैसले अपनी परिस्थिति को देखकर खुद
Shashi kala vyas
एक अध्याय नया
एक अध्याय नया
Priya princess panwar
*आई गंगा स्वर्ग से, चमत्कार का काम (कुंडलिया)*
*आई गंगा स्वर्ग से, चमत्कार का काम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ज़ख़्म गहरा है सब्र से काम लेना है,
ज़ख़्म गहरा है सब्र से काम लेना है,
Phool gufran
प्रकृति
प्रकृति
लक्ष्मी सिंह
निरीह गौरया
निरीह गौरया
Dr.Pratibha Prakash
Loading...