Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Jul 2023 · 1 min read

समय की नाड़ी पर

समय की नाड़ी पर
विवेक की उंगली रख कर
लिखे गए सम-सामयिक विचार
समय के शिलालेख होते हैं।
■प्रणय प्रभात■

1 Like · 272 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जिन्हें नशा था
जिन्हें नशा था
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
"अवध में राम आये हैं"
Ekta chitrangini
* बिखर रही है चान्दनी *
* बिखर रही है चान्दनी *
surenderpal vaidya
अफसोस
अफसोस
Dr. Kishan tandon kranti
आत्मीयकरण-1 +रमेशराज
आत्मीयकरण-1 +रमेशराज
कवि रमेशराज
मातृस्वरूपा प्रकृति
मातृस्वरूपा प्रकृति
ऋचा पाठक पंत
हर पिता को अपनी बेटी को,
हर पिता को अपनी बेटी को,
Shutisha Rajput
তুমি এলে না
তুমি এলে না
goutam shaw
तुम्हारा चश्मा
तुम्हारा चश्मा
Dr. Seema Varma
23/72.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/72.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सुप्रभात प्रिय..👏👏
सुप्रभात प्रिय..👏👏
आर.एस. 'प्रीतम'
लक्ष्य जितना बड़ा होगा उपलब्धि भी उतनी बड़ी होगी।
लक्ष्य जितना बड़ा होगा उपलब्धि भी उतनी बड़ी होगी।
Paras Nath Jha
अलसाई शाम और तुमसे मोहब्बत करने की आज़ादी में खुद को ढूँढना
अलसाई शाम और तुमसे मोहब्बत करने की आज़ादी में खुद को ढूँढना
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
जो कुछ भी है आज है,
जो कुछ भी है आज है,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
प्यार में ही तकरार होती हैं।
प्यार में ही तकरार होती हैं।
Neeraj Agarwal
प्रेम भरी नफरत
प्रेम भरी नफरत
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मिसाल (कविता)
मिसाल (कविता)
Kanchan Khanna
कभी-कभी हम निःशब्द हो जाते हैं
कभी-कभी हम निःशब्द हो जाते हैं
Harminder Kaur
उम्मीद ....
उम्मीद ....
sushil sarna
मन की प्रीत
मन की प्रीत
भरत कुमार सोलंकी
Hajipur
Hajipur
Hajipur
असफलता का घोर अन्धकार,
असफलता का घोर अन्धकार,
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
"सस्ते" लोगों से
*Author प्रणय प्रभात*
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Tarun Singh Pawar
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
🌸 मन संभल जाएगा 🌸
पूर्वार्थ
मैं एक खिलौना हूं...
मैं एक खिलौना हूं...
Naushaba Suriya
भारत को निपुण बनाओ
भारत को निपुण बनाओ
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
बसहा चलल आब संसद भवन
बसहा चलल आब संसद भवन
मनोज कर्ण
क्यों दोष देते हो
क्यों दोष देते हो
Suryakant Dwivedi
DR Arun Kumar shastri
DR Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...