Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Oct 2022 · 1 min read

*शक्ति दो भवानी यह वीरता का भाव बढ़े (घनाक्षरी: सिंह विलोकित छंद)*

शक्ति दो भवानी यह वीरता का भाव बढ़े (घनाक्षरी: सिंह विलोकित छंद)
______________________
शक्ति दो भवानी यह वीरता का भाव बढ़े
देश में समस्त चहुॅं ओर देशभक्ति दो
देशभक्ति दो सवारी सिंह पे सवार करें
बलिदान होने वाली राष्ट्र-अनुरक्ति दो
अनुरक्ति दो प्रणम्य भारत की भूमि लगे
साधना के पथ हेतु उचित विरक्ति दो
विरक्ति दो न हमें धन-वैभव की चाह रहे
शीश देश के लिए चढ़ाने वाली शक्ति दो
————————————-
रचयिता : रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा रामपुर उत्तर प्रदेश
मोबाइल 99976 15451

218 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
समल चित् -समान है/प्रीतिरूपी मालिकी/ हिंद प्रीति-गान बन
समल चित् -समान है/प्रीतिरूपी मालिकी/ हिंद प्रीति-गान बन
Pt. Brajesh Kumar Nayak
वर्तमान समय में संस्कार और सभ्यता मर चुकी है
वर्तमान समय में संस्कार और सभ्यता मर चुकी है
प्रेमदास वसु सुरेखा
माई बेस्ट फ्रैंड ''रौनक''
माई बेस्ट फ्रैंड ''रौनक''
लक्की सिंह चौहान
हे सर्दी रानी कब आएगी तू,
हे सर्दी रानी कब आएगी तू,
ओनिका सेतिया 'अनु '
बूढ़ी मां
बूढ़ी मां
Sûrëkhâ Rãthí
दृष्टि
दृष्टि
Ajay Mishra
रेत पर
रेत पर
Shweta Soni
योग
योग
लक्ष्मी सिंह
हिन्दी दोहा बिषय- कलश
हिन्दी दोहा बिषय- कलश
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अन्त हुआ सब आ गए, झूठे जग के मीत ।
अन्त हुआ सब आ गए, झूठे जग के मीत ।
sushil sarna
■ आज की ग़ज़ल
■ आज की ग़ज़ल
*Author प्रणय प्रभात*
रंजीत कुमार शुक्ल
रंजीत कुमार शुक्ल
Ranjeet kumar Shukla
शिकवा गिला शिकायतें
शिकवा गिला शिकायतें
Dr fauzia Naseem shad
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मुहब्बत सचमें ही थी।
मुहब्बत सचमें ही थी।
Taj Mohammad
सभी कहें उत्तरांचली,  महावीर है नाम
सभी कहें उत्तरांचली, महावीर है नाम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
★क़त्ल ★
★क़त्ल ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
20. सादा
20. सादा
Rajeev Dutta
ओ! चॅंद्रयान
ओ! चॅंद्रयान
kavita verma
ख्याल नहीं थे उम्दा हमारे, इसलिए हालत ऐसी हुई
ख्याल नहीं थे उम्दा हमारे, इसलिए हालत ऐसी हुई
gurudeenverma198
"खुशी मत मना"
Dr. Kishan tandon kranti
सम पर रहना
सम पर रहना
Punam Pande
💐अज्ञात के प्रति-119💐
💐अज्ञात के प्रति-119💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सोशल मीडिया पर एक दिन (हास्य-व्यंग्य)
सोशल मीडिया पर एक दिन (हास्य-व्यंग्य)
Ravi Prakash
हरकत में आयी धरा...
हरकत में आयी धरा...
डॉ.सीमा अग्रवाल
धन्य सूर्य मेवाड़ भूमि के
धन्य सूर्य मेवाड़ भूमि के
surenderpal vaidya
जानो आयी है होली
जानो आयी है होली
Satish Srijan
बारिश और उनकी यादें...
बारिश और उनकी यादें...
Falendra Sahu
2477.पूर्णिका
2477.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सौंदर्य छटा🙏
सौंदर्य छटा🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Loading...