Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Aug 2023 · 1 min read

वो लोग….

मुझसे मेरी कहानी सुनने में
ऐतराज हैं जिन्हें..
महफिलों में अक्सर
मेरा ही जिक्र किया करते हैं वो लोग…

मैं दर्द की नुमाइश नहीं किया करता
ये मेरे रकीब..
वो मेरे दर्द को आवारा कहते हैं
शायद उसे ही बेचकर शायर बना करते हैं लोग…

मुंतजिर पर अक्सर मेरा नसीब भटकर नाराज रहा,
मैं ठरहा रहा, मैं बिखरा रहा,
वो रूँह की छालों से ना-समझ अंजान रहे,
जो मेरे हर कदमों पर मुझे आवारा कहते हैं लोग…
#ks

275 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*पश्चाताप*
*पश्चाताप*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
#संघ_शक्ति_कलियुगे
#संघ_शक्ति_कलियुगे
*प्रणय प्रभात*
** गर्मी है पुरजोर **
** गर्मी है पुरजोर **
surenderpal vaidya
माँ तेरे चरणों मे
माँ तेरे चरणों मे
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
*जानो कीमत वोट की, करो सभी मतदान (कुंडलिया)*
*जानो कीमत वोट की, करो सभी मतदान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
वसंत ऋतु
वसंत ऋतु
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
Don't lose a guy that asks for nothing but loyalty, honesty,
Don't lose a guy that asks for nothing but loyalty, honesty,
पूर्वार्थ
ऑफिसियल रिलेशन
ऑफिसियल रिलेशन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
గురువు కు వందనం.
గురువు కు వందనం.
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
हक़ीक़त है
हक़ीक़त है
Dr fauzia Naseem shad
राही
राही
Neeraj Agarwal
महिलाएं जितना तेजी से रो सकती है उतना ही तेजी से अपने भावनाओ
महिलाएं जितना तेजी से रो सकती है उतना ही तेजी से अपने भावनाओ
Rj Anand Prajapati
भरी रंग से जिंदगी, कह होली त्योहार।
भरी रंग से जिंदगी, कह होली त्योहार।
Suryakant Dwivedi
अभाव और साहित्य का पुराना रिश्ता है अभाव ही कवि को नए आलंबन
अभाव और साहित्य का पुराना रिश्ता है अभाव ही कवि को नए आलंबन
गुमनाम 'बाबा'
"याद रहे"
Dr. Kishan tandon kranti
2392.पूर्णिका
2392.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
जाने कब दुनियां के वासी चैन से रह पाएंगे।
जाने कब दुनियां के वासी चैन से रह पाएंगे।
सत्य कुमार प्रेमी
भूतल अम्बर अम्बु में, सदा आपका वास।🙏
भूतल अम्बर अम्बु में, सदा आपका वास।🙏
संजीव शुक्ल 'सचिन'
"क्या लिखूं क्या लिखूं"
Yogendra Chaturwedi
वर्तमान
वर्तमान
Shyam Sundar Subramanian
*लू के भभूत*
*लू के भभूत*
Santosh kumar Miri
देख लूँ गौर से अपना ये शहर
देख लूँ गौर से अपना ये शहर
Shweta Soni
" मैं तन्हा हूँ "
Aarti sirsat
राम की रहमत
राम की रहमत
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
गालगागा गालगागा गालगागा
गालगागा गालगागा गालगागा
Neelam Sharma
कहां से कहां आ गए हम....
कहां से कहां आ गए हम....
Srishty Bansal
....प्यार की सुवास....
....प्यार की सुवास....
Awadhesh Kumar Singh
जवाब के इन्तजार में हूँ
जवाब के इन्तजार में हूँ
Pratibha Pandey
महोब्बत के नशे मे उन्हें हमने खुदा कह डाला
महोब्बत के नशे मे उन्हें हमने खुदा कह डाला
शेखर सिंह
हमारा दिल।
हमारा दिल।
Taj Mohammad
Loading...