Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 May 2022 · 1 min read

विश्व हास्य दिवस

नाम डर का ह्रदय से मिटा दीजिये
ज़ख़्म की आप हँसकर दवा कीजिये
ज़िन्दगी के लिये बस किसी भी तरह
मुस्कुराहट को अपनी बचा लीजिये

01-05-2022
डॉ अर्चना गुप्ता

Language: Hindi
6 Likes · 7 Comments · 354 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Archana Gupta
View all
You may also like:
दिनांक,,,11/07/2024,,,
दिनांक,,,11/07/2024,,,
Neelofar Khan
नहले पे दहला
नहले पे दहला
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Let love shine bright
Let love shine bright
Monika Arora
** मन में यादों की बारात है **
** मन में यादों की बारात है **
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
बुंदेली (दमदार दुमदार ) दोहे
बुंदेली (दमदार दुमदार ) दोहे
Subhash Singhai
बताओ कहां से शुरू करूं,
बताओ कहां से शुरू करूं,
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
" तू "
Dr. Kishan tandon kranti
दोय चिड़कली
दोय चिड़कली
Rajdeep Singh Inda
2673.*पूर्णिका*
2673.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
* साथ जब बढ़ना हमें है *
* साथ जब बढ़ना हमें है *
surenderpal vaidya
पर्यावरण
पर्यावरण
Madhavi Srivastava
"राबता" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
नहीं आऊँगा तेरी दर पे, मैं आज के बाद
नहीं आऊँगा तेरी दर पे, मैं आज के बाद
gurudeenverma198
हमनें ख़ामोश
हमनें ख़ामोश
Dr fauzia Naseem shad
झूठ भी कितना अजीब है,
झूठ भी कितना अजीब है,
नेताम आर सी
'चो' शब्द भी गजब का है, जिसके साथ जुड़ जाता,
'चो' शब्द भी गजब का है, जिसके साथ जुड़ जाता,
SPK Sachin Lodhi
■ उदाहरण देने की ज़रूरत नहीं। सब आपके आसपास हैं। तमाम सुर्खिय
■ उदाहरण देने की ज़रूरत नहीं। सब आपके आसपास हैं। तमाम सुर्खिय
*प्रणय प्रभात*
तेरी मीठी बातों का कायल अकेला मैं ही नहीं,
तेरी मीठी बातों का कायल अकेला मैं ही नहीं,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
प्रेम
प्रेम
Pratibha Pandey
"जय जवान जय किसान" - आर्टिस्ट (कुमार श्रवण)
Shravan singh
शिक्षा अपनी जिम्मेदारी है
शिक्षा अपनी जिम्मेदारी है
Buddha Prakash
क्या जलाएगी मुझे यह, राख झरती ठाँव मधुरे !
क्या जलाएगी मुझे यह, राख झरती ठाँव मधुरे !
Ashok deep
कुशादा
कुशादा
Mamta Rani
नारी शक्ति
नारी शक्ति
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कभी वाकमाल चीज था, अभी नाचीज हूँ
कभी वाकमाल चीज था, अभी नाचीज हूँ
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बेरोज़गारी का प्रच्छन्न दैत्य
बेरोज़गारी का प्रच्छन्न दैत्य
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
रोबोटिक्स -एक समीक्षा
रोबोटिक्स -एक समीक्षा
Shyam Sundar Subramanian
*फेसबुक पर स्वर्गीय श्री शिव अवतार रस्तोगी सरस जी से संपर्क*
*फेसबुक पर स्वर्गीय श्री शिव अवतार रस्तोगी सरस जी से संपर्क*
Ravi Prakash
सौंदर्य मां वसुधा की
सौंदर्य मां वसुधा की
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
"कलम की अभिलाषा"
Yogendra Chaturwedi
Loading...