Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Nov 2023 · 1 min read

विश्व कप-2023 फाइनल

विश्व कप-2023 फाइनल
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया
स्थान-नरेन्द्र मोदी स्टेडियम, अहमदाबाद
पुरस्कार
वर्ल्डकप ट्रॉफी-ऑस्ट्रेलिया
मैन ऑफ द मैच-ट्रेविस हैड (137 रन)
मैन ऑफ द टूर्नामेंट-
गोल्डन बैट-विराट कोहली(765)भारत
गोल्डन बॉल-मोहम्मद सामी(24)

61 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बीरबल जैसा तेज तर्रार चालाक और समझदार लोग आज भी होंगे इस दुन
बीरबल जैसा तेज तर्रार चालाक और समझदार लोग आज भी होंगे इस दुन
Dr. Man Mohan Krishna
वार्तालाप अगर चांदी है
वार्तालाप अगर चांदी है
Pankaj Sen
" मैं फिर उन गलियों से गुजरने चली हूँ "
Aarti sirsat
पंछी और पेड़
पंछी और पेड़
नन्दलाल सुथार "राही"
सीख
सीख
Sanjay ' शून्य'
प्रार्थना
प्रार्थना
Dr.Pratibha Prakash
युद्ध के मायने
युद्ध के मायने
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
ਦਿਲ  ਦੇ ਦਰਵਾਜੇ ਤੇ ਫਿਰ  ਦੇ ਰਿਹਾ ਦਸਤਕ ਕੋਈ ।
ਦਿਲ ਦੇ ਦਰਵਾਜੇ ਤੇ ਫਿਰ ਦੇ ਰਿਹਾ ਦਸਤਕ ਕੋਈ ।
Surinder blackpen
उन सड़कों ने प्रेम जिंदा रखा है
उन सड़कों ने प्रेम जिंदा रखा है
Arun Kumar Yadav
ये ऊँचे-ऊँचे पर्वत शिखरें,
ये ऊँचे-ऊँचे पर्वत शिखरें,
Buddha Prakash
*जीवन सिखाता है लेकिन चुनौतियां पहले*
*जीवन सिखाता है लेकिन चुनौतियां पहले*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ये तो दुनिया है यहाँ लोग बदल जाते है
ये तो दुनिया है यहाँ लोग बदल जाते है
shabina. Naaz
इंसान भीतर से यदि रिक्त हो
इंसान भीतर से यदि रिक्त हो
ruby kumari
*धन्य-धन्य वह जीवन जो, श्री राम-नाम भज जीता है 【मुक्तक】*
*धन्य-धन्य वह जीवन जो, श्री राम-नाम भज जीता है 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
जितने चंचल है कान्हा
जितने चंचल है कान्हा
Harminder Kaur
सभी भगवान को प्यारे हो जाते हैं,
सभी भगवान को प्यारे हो जाते हैं,
Manoj Mahato
" यादों की शमा"
Pushpraj Anant
हमको तू ऐसे नहीं भूला, बसकर तू परदेश में
हमको तू ऐसे नहीं भूला, बसकर तू परदेश में
gurudeenverma198
व्यंग्य क्षणिकाएं
व्यंग्य क्षणिकाएं
Suryakant Dwivedi
"अवसाद का रंग"
Dr. Kishan tandon kranti
#पैरोडी-
#पैरोडी-
*Author प्रणय प्रभात*
हम हँसते-हँसते रो बैठे
हम हँसते-हँसते रो बैठे
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
23/64.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/64.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
श्रीराम
श्रीराम
सुरेखा कादियान 'सृजना'
मातृ रूप
मातृ रूप
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
एक अजब सा सन्नाटा है
एक अजब सा सन्नाटा है
लक्ष्मी सिंह
उम्मीद
उम्मीद
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
अनुप्रास अलंकार
अनुप्रास अलंकार
नूरफातिमा खातून नूरी
रंग बिरंगी दुनिया में हम सभी जीते हैं।
रंग बिरंगी दुनिया में हम सभी जीते हैं।
Neeraj Agarwal
गुमनाम शायरी
गुमनाम शायरी
Shekhar Chandra Mitra
Loading...