Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jun 2018 · 1 min read

राम कथा

राम कथा अमृत कथा, विष को करती दूर,
विषय वासना हट सके, यश मिलता भरपूर l
राम कथा जिसने लिखी, लिया राम का नाम,
राम रंग में रंग गया, माया का क्या काम l

Language: Hindi
228 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
भारत का लाल
भारत का लाल
Aman Sinha
यह अपना धर्म हम, कभी नहीं भूलें
यह अपना धर्म हम, कभी नहीं भूलें
gurudeenverma198
वो भी तिरी मानिंद मिरे हाल पर मुझ को छोड़ कर
वो भी तिरी मानिंद मिरे हाल पर मुझ को छोड़ कर
Trishika S Dhara
"विरले ही लोग"
Dr. Kishan tandon kranti
जय भोलेनाथ
जय भोलेनाथ
Anil Mishra Prahari
माँ जब भी दुआएं देती है
माँ जब भी दुआएं देती है
Bhupendra Rawat
नवरात्रि का छठा दिन मां दुर्गा की छठी शक्ति मां कात्यायनी को
नवरात्रि का छठा दिन मां दुर्गा की छठी शक्ति मां कात्यायनी को
Shashi kala vyas
* तेरी सौग़ात*
* तेरी सौग़ात*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
2122 1212 22/112
2122 1212 22/112
SZUBAIR KHAN KHAN
।। आरती श्री सत्यनारायण जी की।।
।। आरती श्री सत्यनारायण जी की।।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तड़के जब आँखें खुलीं, उपजा एक विचार।
तड़के जब आँखें खुलीं, उपजा एक विचार।
डॉ.सीमा अग्रवाल
কি?
কি?
Otteri Selvakumar
25. *पलभर में*
25. *पलभर में*
Dr .Shweta sood 'Madhu'
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी : लक्ष्मी नारायण अग्रवाल बाबा*
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी : लक्ष्मी नारायण अग्रवाल बाबा*
Ravi Prakash
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
तू है तसुव्वर में तो ए खुदा !
ओनिका सेतिया 'अनु '
संस्कृतियों का समागम
संस्कृतियों का समागम
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
ज़िंदगी जीना
ज़िंदगी जीना
Dr fauzia Naseem shad
मुक्तक
मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
नश्वर संसार
नश्वर संसार
Shyam Sundar Subramanian
😊लघु-कथा :--
😊लघु-कथा :--
*प्रणय प्रभात*
सच नहीं है कुछ भी, मैने किया है
सच नहीं है कुछ भी, मैने किया है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"मैं" के रंगों में रंगे होते हैं, आत्मा के ये परिधान।
Manisha Manjari
बेटियों ने
बेटियों ने
ruby kumari
मेरी शौक़-ए-तमन्ना भी पूरी न हो सकी,
मेरी शौक़-ए-तमन्ना भी पूरी न हो सकी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मैं तो ईमान की तरह मरा हूं कई दफा ,
मैं तो ईमान की तरह मरा हूं कई दफा ,
Manju sagar
❤️ DR ARUN KUMAR SHASTRI ❤️
❤️ DR ARUN KUMAR SHASTRI ❤️
DR ARUN KUMAR SHASTRI
इतना आदर
इतना आदर
Basant Bhagawan Roy
आ लिख दूँ
आ लिख दूँ
हिमांशु Kulshrestha
बच्चे ही अच्छे हैं
बच्चे ही अच्छे हैं
Diwakar Mahto
चाँद को चोर देखता है
चाँद को चोर देखता है
Rituraj shivem verma
Loading...