Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2024 · 1 min read

रही प्रतीक्षारत यशोधरा

रही प्रतीक्षारत यशोधरा
अब बसंत आएगा
मेरे जीवन के पतझड़ में
कब बसंत आएगा
मैं भी सजूँ-धजूँगी गोपा
जब बसंत आएगा
आयेंगे जब स्वामी
मेरा तब बसंत आएगा

94 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shweta Soni
View all
You may also like:
खुशियों का दौर गया , चाहतों का दौर गया
खुशियों का दौर गया , चाहतों का दौर गया
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
रिसाइकल्ड रिश्ता - नया लेबल
रिसाइकल्ड रिश्ता - नया लेबल
Atul "Krishn"
वक्त से लड़कर अपनी तकदीर संवार रहा हूँ।
वक्त से लड़कर अपनी तकदीर संवार रहा हूँ।
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बात तब कि है जब हम छोटे हुआ करते थे, मेरी माँ और दादी ने आस
बात तब कि है जब हम छोटे हुआ करते थे, मेरी माँ और दादी ने आस
ruby kumari
World Tobacco Prohibition Day
World Tobacco Prohibition Day
Tushar Jagawat
मैं तो महज प्रेमिका हूँ
मैं तो महज प्रेमिका हूँ
VINOD CHAUHAN
" मैं तो लिखता जाऊँगा "
DrLakshman Jha Parimal
बेटी परायो धन बताये, पिहर सु ससुराल मे पति थम्माये।
बेटी परायो धन बताये, पिहर सु ससुराल मे पति थम्माये।
Anil chobisa
3 *शख्सियत*
3 *शख्सियत*
Dr Shweta sood
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
2838.*पूर्णिका*
2838.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
साए
साए
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
डॉ अरूण कुमार शास्त्री
डॉ अरूण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बुद्ध पुर्णिमा
बुद्ध पुर्णिमा
Satish Srijan
kavita
kavita
Rambali Mishra
जीवन में ईमानदारी, सहजता और सकारात्मक विचार कभीं मत छोड़िए य
जीवन में ईमानदारी, सहजता और सकारात्मक विचार कभीं मत छोड़िए य
Damodar Virmal | दामोदर विरमाल
पात उगेंगे पुनः नये,
पात उगेंगे पुनः नये,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अलग सी सोच है उनकी, अलग अंदाज है उनका।
अलग सी सोच है उनकी, अलग अंदाज है उनका।
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
जीवन में प्राथमिकताओं का तय किया जाना बेहद ज़रूरी है,अन्यथा
जीवन में प्राथमिकताओं का तय किया जाना बेहद ज़रूरी है,अन्यथा
Shweta Soni
अब मत करो ये Pyar और respect की बातें,
अब मत करो ये Pyar और respect की बातें,
Vishal babu (vishu)
"इस जगत में"
Dr. Kishan tandon kranti
हे राम,,,,,,,,,सहारा तेरा है।
हे राम,,,,,,,,,सहारा तेरा है।
Sunita Gupta
सिया राम विरह वेदना
सिया राम विरह वेदना
Er.Navaneet R Shandily
खुशी(👇)
खुशी(👇)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
आहट
आहट
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
इस शहर से अब हम हो गए बेजार ।
इस शहर से अब हम हो गए बेजार ।
ओनिका सेतिया 'अनु '
मन मंथन पर सुन सखे,जोर चले कब कोय
मन मंथन पर सुन सखे,जोर चले कब कोय
Dr Archana Gupta
क्रव्याद
क्रव्याद
Mandar Gangal
सत्य को अपना बना लो,
सत्य को अपना बना लो,
Buddha Prakash
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
Ravi Prakash
Loading...