मेरे साथ चलता नही

मंज़िल पर मिलने वाले बहुत है यहाँ
क्यो कोई रास्तो पर नही मिलता
धूप भी इतनी तेज है तेरे शहर मे,
मेरा साया भी मेरे साथ चलता नही ||

© शिवदत्त श्रोत्रिय

158 Views
You may also like:
प्रेम की पींग बढ़ाओ जरा धीरे धीरे
Ram Krishan Rastogi
कोई तो हद होगी।
Taj Mohammad
हम गरीब है साहब।
Taj Mohammad
धागा भाव-स्वरूप, प्रीति शुभ रक्षाबंधन
Pt. Brajesh Kumar Nayak
यूं रूबरू आओगे।
Taj Mohammad
महाभारत की नींव
ओनिका सेतिया 'अनु '
ये दिल मेरा था, अब उनका हो गया
Ram Krishan Rastogi
नियत मे पर्दा
Vikas Sharma'Shivaaya'
बुलबुला
मनोज शर्मा
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
हर साल क्यों जलाए जाते हैं उत्तराखंड के जंगल ?
Deepak Kohli
कुछ तुम बदलो, कुछ हम बदलें।
निकेश कुमार ठाकुर
जिसके सीने में जिगर होता है।
Taj Mohammad
पुस्तैनी जमीन
आकाश महेशपुरी
उफ ! ये गर्मी, हाय ! गर्मी / (गर्मी का...
ईश्वर दयाल गोस्वामी
पिता
pradeep nagarwal
छुट्टी वाले दिन...♡
Dr. Alpa H.
बाल वीर हनुमान
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पिता के रिश्ते में फर्क होता है।
Taj Mohammad
भगवान परशुराम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Life through the window during lockdown
ASHISH KUMAR SINGH 9A
रत्नों में रत्न है मेरे बापू
Nitu Sah
बुरा तो ना मानोगी।
Taj Mohammad
फिक्र ना है किसी में।
Taj Mohammad
*पापा … मेरे पापा …*
Neelam Chaudhary
"एक नज़्म लिख रहा हूँ"
Lohit Tamta
ऐ मेघ
सिद्धार्थ गोरखपुरी
सारे ही चेहरे कातिल हैं।
Taj Mohammad
पिता का महत्व
ओनिका सेतिया 'अनु '
सिपाही
Buddha Prakash
Loading...