Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2023 · 1 min read

मेरी एजुकेशन शायरी

मेरी एजुकेशन शायरी
अच्छी बुरी बातें सभी सुननी चाहिए उसमें सुनने के बाद अपने दिमाग में मनन करने के बाद जो अच्छी बातें हैं उन्हें अपने जीवन शैली यानी खाली मटके में उतार लेना चाहिए

855 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मनीआर्डर से ज्याद...
मनीआर्डर से ज्याद...
Amulyaa Ratan
गुमनाम मुहब्बत का आशिक
गुमनाम मुहब्बत का आशिक
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
आया नववर्ष
आया नववर्ष
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
जीवन का मकसद क्या है?
जीवन का मकसद क्या है?
Buddha Prakash
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
प्रेम एक्सप्रेस
प्रेम एक्सप्रेस
Rahul Singh
कभी धूप तो कभी बदली नज़र आयी,
कभी धूप तो कभी बदली नज़र आयी,
Rajesh Kumar Arjun
स्वांग कुली का
स्वांग कुली का
इंजी. संजय श्रीवास्तव
2951.*पूर्णिका*
2951.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मुस्कान
मुस्कान
Santosh Shrivastava
प्रकृति
प्रकृति
Sûrëkhâ
चाहती हूँ मैं
चाहती हूँ मैं
Shweta Soni
चौथ मुबारक हो तुम्हें शुभ करवा के साथ।
चौथ मुबारक हो तुम्हें शुभ करवा के साथ।
सत्य कुमार प्रेमी
क्या ईसा भारत आये थे?
क्या ईसा भारत आये थे?
कवि रमेशराज
■ जंगल में मंगल...
■ जंगल में मंगल...
*प्रणय प्रभात*
वक़्त की आँधियाँ
वक़्त की आँधियाँ
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
अड़चन
अड़चन
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
वो हमको देखकर मुस्कुराने में व्यस्त थे,
वो हमको देखकर मुस्कुराने में व्यस्त थे,
Smriti Singh
सोच के रास्ते
सोच के रास्ते
Dr fauzia Naseem shad
तुकबन्दी अब छोड़ो कविवर,
तुकबन्दी अब छोड़ो कविवर,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
कविता :- दुःख तो बहुत है मगर.. (विश्व कप क्रिकेट में पराजय पर)
कविता :- दुःख तो बहुत है मगर.. (विश्व कप क्रिकेट में पराजय पर)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मेरे सब्र की इंतहां न ले !
मेरे सब्र की इंतहां न ले !
ओसमणी साहू 'ओश'
अतीत कि आवाज
अतीत कि आवाज
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
A last warning
A last warning
Bindesh kumar jha
संवादरहित मित्रों से जुड़ना मुझे भाता नहीं,
संवादरहित मित्रों से जुड़ना मुझे भाता नहीं,
DrLakshman Jha Parimal
तलाश हमें  मौके की नहीं मुलाकात की है
तलाश हमें मौके की नहीं मुलाकात की है
Tushar Singh
* गीत कोई *
* गीत कोई *
surenderpal vaidya
मोर मुकुट संग होली
मोर मुकुट संग होली
Dinesh Kumar Gangwar
पेइंग गेस्ट
पेइंग गेस्ट
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सिलसिला
सिलसिला
Ramswaroop Dinkar
Loading...