Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Jul 2023 · 1 min read

मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उन्हें नमन।

मुंशी प्रेमचंद विश्व हिंदी साहित्य के मूर्धन्य साहित्यकार जिनकी कालजयी रचना गोदान,गबन,सेवासदन, निर्मला,रंगभूमि जैसे दर्जन से अधिक उपन्यास और कफन,पूस की रात,ईदगाह,दो बैलों की कथा,कफन जैसी तीन सौ से अधिक कहानियाँ हिन्दी साहित्य की बहुमूल्य धरोहर है। उनकी रचना में उस दौर की प्रमुख सभी समस्याओं का वर्णन मिलता है।आदर्शोन्मुखी यथार्थवाद उनके साहित्य की मुख्य विशेषता रही।साहित्य में दलित विमर्श का प्रारंभ संभवतः प्रेमचन्द की रचनाओं से ही हुआ। इसके साथ ही स्वतंत्रता संग्राम के समय के सबसे बड़े कथाकार रहने के कारण इन्हें राष्ट्रवादी कथाकार भी कहा जा सकता है। विचारों से वह मानवतावादी भी थे और मार्क्सवादी भी। प्रगतिवादी विचारधारा के कारण उन्हें हिन्दी साहित्य का प्रथम प्रगतिशील लेखक भी कहा जा सकता है। उन्होंने राजनीतिक, सामाजिक और पारिवारिक सभी विचारों को अपने साहित्यिक परिधि में समेटने का प्रयास किया।
आज उनकी जयंती पर उन्हें नमन।। 🙏

Language: Hindi
Tag: लेख
244 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Paras Nath Jha
View all
You may also like:
भला दिखता मनुष्य
भला दिखता मनुष्य
Dr MusafiR BaithA
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
सूरज नमी निचोड़े / (नवगीत)
सूरज नमी निचोड़े / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
ले बुद्धों से ज्ञान
ले बुद्धों से ज्ञान
Shekhar Chandra Mitra
तुम नहीं बदले___
तुम नहीं बदले___
Rajesh vyas
मां जब मैं तेरे गर्भ में था, तू मुझसे कितनी बातें करती थी...
मां जब मैं तेरे गर्भ में था, तू मुझसे कितनी बातें करती थी...
Anand Kumar
ख़्याल रखें
ख़्याल रखें
Dr fauzia Naseem shad
"सदियों का सन्ताप"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरे प्यारे भैया
मेरे प्यारे भैया
Samar babu
प्रेम समर्पण की अनुपम पराकाष्ठा है।
प्रेम समर्पण की अनुपम पराकाष्ठा है।
सुनील कुमार
नाम कमाले ये जिनगी म, संग नई जावय धन दौलत बेटी बेटा नारी।
नाम कमाले ये जिनगी म, संग नई जावय धन दौलत बेटी बेटा नारी।
Ranjeet kumar patre
मुझे याद🤦 आती है
मुझे याद🤦 आती है
डॉ० रोहित कौशिक
*सपना देखो हिंदी गूँजे, सारे हिंदुस्तान में(गीत)*
*सपना देखो हिंदी गूँजे, सारे हिंदुस्तान में(गीत)*
Ravi Prakash
Forget and Forgive Solve Many Problems
Forget and Forgive Solve Many Problems
PRATIBHA ARYA (प्रतिभा आर्य )
आज मानवता मृत्यु पथ पर जा रही है।
आज मानवता मृत्यु पथ पर जा रही है।
पूर्वार्थ
सूखा पत्ता
सूखा पत्ता
Dr Nisha nandini Bhartiya
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
Ms.Ankit Halke jha
गरीबी
गरीबी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
प्रकृति हर पल आपको एक नई सीख दे रही है और आपकी कमियों और खूब
प्रकृति हर पल आपको एक नई सीख दे रही है और आपकी कमियों और खूब
Rj Anand Prajapati
आजाद पंछी
आजाद पंछी
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
Kabhi jo dard ki dawa hua krta tha
Kabhi jo dard ki dawa hua krta tha
Kumar lalit
मौसम
मौसम
Monika Verma
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
*जिंदगी के अनुभवों से एक बात सीख ली है कि ईश्वर से उम्मीद लग
*जिंदगी के अनुभवों से एक बात सीख ली है कि ईश्वर से उम्मीद लग
Shashi kala vyas
मुद्रा नियमित शिक्षण
मुद्रा नियमित शिक्षण
AJAY AMITABH SUMAN
बढ़ना होगा
बढ़ना होगा
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
Us jamane se iss jamane tak ka safar ham taye karte rhe
Us jamane se iss jamane tak ka safar ham taye karte rhe
Sakshi Tripathi
*हो न लोकतंत्र की हार*
*हो न लोकतंत्र की हार*
Poonam Matia
कुंडलिया
कुंडलिया
sushil sarna
विश्व पुस्तक दिवस पर विशेष
विश्व पुस्तक दिवस पर विशेष
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Loading...