Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Apr 2024 · 1 min read

माता रानी दर्श का

माता रानी दर्श का,बनता जब संयोग।
दिक्कत सारी खुद मिटे,मिटते सारे रोग।
मिटते सारे रोग,अर्थ भी समुचित आए।
उमड़े उर अनुराग,भक्ति का पथ ही भाए।
कहता कविवर ओम,मातु हैं सब कुछ ज्ञाता।
बनता सकल विधान, बुलातीं हैं जब माता।।

ओम प्रकाश श्रीवास्तव ओम

1 Like · 42 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
डोमिन ।
डोमिन ।
Acharya Rama Nand Mandal
मैं तो हमेशा बस मुस्कुरा के चलता हूॅ॑
मैं तो हमेशा बस मुस्कुरा के चलता हूॅ॑
VINOD CHAUHAN
जो लम्हें प्यार से जिया जाए,
जो लम्हें प्यार से जिया जाए,
Buddha Prakash
-- मुंह पर टीका करना --
-- मुंह पर टीका करना --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
सूरज दादा
सूरज दादा
डॉ. शिव लहरी
लम्हें संजोऊ , वक्त गुजारु,तेरे जिंदगी में आने से पहले, अपने
लम्हें संजोऊ , वक्त गुजारु,तेरे जिंदगी में आने से पहले, अपने
Dr.sima
"प्यासा"-हुनर
Vijay kumar Pandey
माँ
माँ
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
बचपन से जिनकी आवाज सुनकर बड़े हुए
बचपन से जिनकी आवाज सुनकर बड़े हुए
ओनिका सेतिया 'अनु '
टिप्पणी
टिप्पणी
Adha Deshwal
जज्बात
जज्बात
अखिलेश 'अखिल'
💃युवती💃
💃युवती💃
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
राम के जैसा पावन हो, वो नाम एक भी नहीं सुना।
राम के जैसा पावन हो, वो नाम एक भी नहीं सुना।
सत्य कुमार प्रेमी
तुम भी तो आजकल हमको चाहते हो
तुम भी तो आजकल हमको चाहते हो
Madhuyanka Raj
बोल दे जो बोलना है
बोल दे जो बोलना है
Monika Arora
माँ i love you ❤ 🤰
माँ i love you ❤ 🤰
Swara Kumari arya
इस पेट की ज़रूरते
इस पेट की ज़रूरते
Dr fauzia Naseem shad
अच्छी तरह मैं होश में हूँ
अच्छी तरह मैं होश में हूँ
gurudeenverma198
■आज का सवाल■
■आज का सवाल■
*प्रणय प्रभात*
आत्मविश्वास ही हमें शीर्ष पर है पहुंचाती... (काव्य)
आत्मविश्वास ही हमें शीर्ष पर है पहुंचाती... (काव्य)
AMRESH KUMAR VERMA
2453.पूर्णिका
2453.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
बुंदेली दोहा- अस्नान
बुंदेली दोहा- अस्नान
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
तुझे याद करता हूँ क्या तुम भी मुझे याद करती हो
तुझे याद करता हूँ क्या तुम भी मुझे याद करती हो
Rituraj shivem verma
"याद आती है"
Dr. Kishan tandon kranti
बिसुणी (घर)
बिसुणी (घर)
Radhakishan R. Mundhra
💐💐💐दोहा निवेदन💐💐💐
💐💐💐दोहा निवेदन💐💐💐
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – तपोभूमि की यात्रा – 06
असुर सम्राट भक्त प्रह्लाद – तपोभूमि की यात्रा – 06
Kirti Aphale
दूर जाना था मुझसे तो करीब लाया क्यों
दूर जाना था मुझसे तो करीब लाया क्यों
कृष्णकांत गुर्जर
आंखों की नदी
आंखों की नदी
Madhu Shah
पृथ्वी दिवस
पृथ्वी दिवस
Bodhisatva kastooriya
Loading...