Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Oct 2022 · 1 min read

मां शेरावाली

मां शेरावाली

दर पर तेरे वक्त बिताऊं, दरबार लगाऊं,
आस तुम ही से लगाऊं, अरज सुनाऊं,
शेरावाली मैया सुन ले पुकार लगाऊं, गुहार लगाऊं,
भरदे झोली मेरी, उपकार मनाऊं, जय जयकार लगाऊं।

#seematuhaina

Language: Hindi
2 Likes · 366 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बरगद पीपल नीम तरु
बरगद पीपल नीम तरु
लक्ष्मी सिंह
चलते रहना ही जीवन है।
चलते रहना ही जीवन है।
संजय कुमार संजू
रंजीत शुक्ल
रंजीत शुक्ल
Ranjeet Kumar Shukla
आब त रावणक राज्य अछि  सबतरि ! गाम मे ,समाज मे ,देशक कोन - को
आब त रावणक राज्य अछि सबतरि ! गाम मे ,समाज मे ,देशक कोन - को
DrLakshman Jha Parimal
दोहा
दोहा
दुष्यन्त 'बाबा'
बेचारा जमीर ( रूह की मौत )
बेचारा जमीर ( रूह की मौत )
ओनिका सेतिया 'अनु '
World tobacco prohibition day
World tobacco prohibition day
Tushar Jagawat
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
भाव
भाव
Sanjay ' शून्य'
■ भगवान के लिए, ख़ुदा के वास्ते।।
■ भगवान के लिए, ख़ुदा के वास्ते।।
*Author प्रणय प्रभात*
दोहा - शीत
दोहा - शीत
sushil sarna
साँवलें रंग में सादगी समेटे,
साँवलें रंग में सादगी समेटे,
ओसमणी साहू 'ओश'
गांधीजी की नीतियों के विरोधी थे ‘ सुभाष ’
गांधीजी की नीतियों के विरोधी थे ‘ सुभाष ’
कवि रमेशराज
*****राम नाम*****
*****राम नाम*****
Kavita Chouhan
खुद पर विश्वास करें
खुद पर विश्वास करें
Dinesh Gupta
हमारी चाहत तो चाँद पे जाने की थी!!
हमारी चाहत तो चाँद पे जाने की थी!!
SUNIL kumar
*आओ लौटें फिर चलें, बचपन के दिन संग(कुंडलिया)*
*आओ लौटें फिर चलें, बचपन के दिन संग(कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मेरी एक सहेली है
मेरी एक सहेली है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पत्नी से अधिक पुरुष के चरित्र का ज्ञान
पत्नी से अधिक पुरुष के चरित्र का ज्ञान
शेखर सिंह
अतीत
अतीत
Neeraj Agarwal
तुम अगर कांटे बोओऐ
तुम अगर कांटे बोओऐ
shabina. Naaz
नहले पे दहला
नहले पे दहला
Dr. Pradeep Kumar Sharma
वापस लौट आते हैं मेरे कदम
वापस लौट आते हैं मेरे कदम
gurudeenverma198
बाइस्कोप मदारी।
बाइस्कोप मदारी।
Satish Srijan
अजी सुनते हो मेरे फ्रिज में टमाटर भी है !
अजी सुनते हो मेरे फ्रिज में टमाटर भी है !
Anand Kumar
अक्ल का अंधा - सूरत सीरत
अक्ल का अंधा - सूरत सीरत
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
बीज अंकुरित अवश्य होगा (सत्य की खोज)
VINOD CHAUHAN
दोस्ती और प्यार पर प्रतिबन्ध
दोस्ती और प्यार पर प्रतिबन्ध
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
चल फिर इक बार मिलें हम तुम पहली बार की तरह।
चल फिर इक बार मिलें हम तुम पहली बार की तरह।
Neelam Sharma
देश काल और परिस्थितियों के अनुसार पाखंडियों ने अनेक रूप धारण
देश काल और परिस्थितियों के अनुसार पाखंडियों ने अनेक रूप धारण
विमला महरिया मौज
Loading...