Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Apr 2024 · 1 min read

* मन कही *

** गीतिका **
~~
छूट गई हैं जो भी बातें, कर लें आज।
और सुरों में ले आएं अब, मन के साज।

ऊंचें स्वर में जब हम करते, कभी न बात।
फिर भी कुछ साथी हमसे हैं, क्यों नाराज।

कदम बढ़ा करते जब आगे, उड़ती धूल।
ज्ञात सभी को हो जाते निज, कुछ अंदाज़।

भारी मन लेकर कब तक हम, आयें साथ।
मुश्किल है आखिर रख पाना, सारे राज़।

संघर्षों में अब क्यों रहना, है बेकार।
तभी सुरक्षित रह पाता है, सिर पर ताज।

शीश नवाया करते हैं सब, आकर पास।
जब बुलंद हो सम्मुख सबके, निज आवाज।

उसपर टिकी हुआ करती है, सबकी आंख।
जिस पाखी की सबसे ऊंची, हो परवाज़।
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
सुरेन्द्रपाल वैद्य, ०७/०४/२०२४

1 Like · 1 Comment · 60 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from surenderpal vaidya
View all
You may also like:
वो जाने क्या कलाई पर कभी बांधा नहीं है।
वो जाने क्या कलाई पर कभी बांधा नहीं है।
सत्य कुमार प्रेमी
18. कन्नौज
18. कन्नौज
Rajeev Dutta
काव्य की आत्मा और अलंकार +रमेशराज
काव्य की आत्मा और अलंकार +रमेशराज
कवि रमेशराज
दोहे
दोहे "हरियाली तीज"
Vaishali Rastogi
रुख़्सत
रुख़्सत
Shyam Sundar Subramanian
Teacher
Teacher
Rajan Sharma
नदी
नदी
Kumar Kalhans
पिताजी का आशीर्वाद है।
पिताजी का आशीर्वाद है।
Kuldeep mishra (KD)
"जिन्दगी के सफर में"
Dr. Kishan tandon kranti
जुनून
जुनून
DR ARUN KUMAR SHASTRI
यूँ ही ऐसा ही बने रहो, बिन कहे सब कुछ कहते रहो…
यूँ ही ऐसा ही बने रहो, बिन कहे सब कुछ कहते रहो…
Anand Kumar
"" *भारत* ""
सुनीलानंद महंत
बिन मौसम बरसात
बिन मौसम बरसात
लक्ष्मी सिंह
मत गुजरा करो शहर की पगडंडियों से बेखौफ
मत गुजरा करो शहर की पगडंडियों से बेखौफ
Damini Narayan Singh
वो अनुराग अनमोल एहसास
वो अनुराग अनमोल एहसास
Seema gupta,Alwar
रूठकर के खुदसे
रूठकर के खुदसे
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
नव प्रबुद्ध भारती
नव प्रबुद्ध भारती
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
इंसान और कुता
इंसान और कुता
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सारे रिश्तों से
सारे रिश्तों से
Dr fauzia Naseem shad
सत्यता और शुचिता पूर्वक अपने कर्तव्यों तथा दायित्वों का निर्
सत्यता और शुचिता पूर्वक अपने कर्तव्यों तथा दायित्वों का निर्
ओम प्रकाश श्रीवास्तव
" सौग़ात " - गीत
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
*कड़वा बोल न बोलिए, कड़वी कहें न बात【कुंडलिया】*
*कड़वा बोल न बोलिए, कड़वी कहें न बात【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
डियर कामरेड्स
डियर कामरेड्स
Shekhar Chandra Mitra
#कुदरत_केरंग
#कुदरत_केरंग
*Author प्रणय प्रभात*
*** कृष्ण रंग ही : प्रेम रंग....!!! ***
*** कृष्ण रंग ही : प्रेम रंग....!!! ***
VEDANTA PATEL
ज़िन्दगी
ज़िन्दगी
डॉक्टर रागिनी
पैसा ना जाए साथ तेरे
पैसा ना जाए साथ तेरे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"You are still here, despite it all. You are still fighting
पूर्वार्थ
3334.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3334.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
सारी गलतियां ख़ुद करके सीखोगे तो जिंदगी कम पड़ जाएगी, सफलता
सारी गलतियां ख़ुद करके सीखोगे तो जिंदगी कम पड़ जाएगी, सफलता
dks.lhp
Loading...